ADVERTISEMENT

हिजाब विवाद में अलकायदा की एंट्री,प्रमुख बोला-'एक होकर इस्लाम पर हमले से लड़ें'

8 मिनट लंबे वीडियो में Ayman al-Zawahiri ने कहा कि हिजाब विवाद ने हिंदू भारत की वास्तविकता को उजागर कर दिया है

Updated
हिजाब विवाद में अलकायदा की एंट्री,प्रमुख बोला-'एक होकर इस्लाम पर हमले से लड़ें'
i

आतंकवादी समूह अल कायदा (Al Qaeda) के प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी (Ayman al-Zawahiri) ने मंगलवार, 5 अप्रैल की देर रात एक वीडियो जारी किया. इस वीडियो में अल-जवाहिरी ने कर्नाटक में हिजाब विवाद (Karnataka hijab row) की निंदा की और मांड्या की मुस्कान खान की प्रशंसा की जो बुर्के में भगवा पहने लड़कों की भीड़ के सामने खड़ी रही थी और जवाब में धार्मिक नारे लगाए थे. अल कायदा के प्रमुख ने भारतीय उपमहाद्वीप में मुसलमानों से बौद्धिक रूप से, मीडिया का उपयोग कर और युद्ध के मैदान में हथियारों के साथ इस्लाम पर कथित हमले से लड़ने के लिए कहा है.

ADVERTISEMENT

भारत की महान महिला/The Noble Woman of India शीर्षक से रिलीज हुए आठ मिनट के लंबे इस वीडियो में अल-जवाहिरी ने कहा कि हिजाब विवाद ने "हिंदू भारत की वास्तविकता और इसके बुतपरस्त (मूर्तिपूजक) लोकतंत्र के धोखे" को उजागर कर दिया था.

अयमान अल-जवाहिरी ने भारतीयों से भारत के "मूर्तिपूजक हिंदू लोकतंत्र" से धोखा खाने से बचने के लिए कहा जो "मुसलमानों पर अत्याचार करने के लिए एक उपकरण से अधिक नहीं है"

अल कायदा प्रमुख के अनुसार यह उसी तरह का धोखा है जो फ्रांस, हॉलैंड और स्विटजरलैंड द्वारा किया गया था जब उन्होंने "नग्नता (न्यूडिटी) की अनुमति देते हुए" हिजाब पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया था.

'हिंदू भीड़ को मुस्कान ने बहादुरी से चुनौती दी ': अल-जवाहिरी

अल कायदा प्रमुख ने मुस्कान खान की "भारत की महान महिला" और "एक बहन" के रूप में भी प्रशंसा की. अल-जवाहिरी ने कहा कि मुस्कान खान ने "तकबीर के उद्दंड नारों के साथ हिंदू बहुदेववादियों की भीड़ को बहादुरी से चुनौती दी थी".

अल-जवाहिरी का यह वीडियो भीड़ का सामना करती मुस्कान खान की एक क्लिप के साथ शुरू होता है, जिसके बाद जवाहिरी आगे बोलता है. अल कायदा प्रमुख ने कहा कि मुस्कान खान के वीडियो ने उसे एक कविता लिखने के लिए प्रेरित किया, जिसे उसने वीडियो के अंत में पढ़ा भी.

“उनकी तकबीर ने मुझे कविता की कुछ लाइन लिखने के लिए प्रेरित किया, बावजूद कि मैं कोई कवि नहीं हूं. उम्मीद है कि हमारी आदरणीय बहन मुझसे शब्दों के इस उपहार को स्वीकार करेगी"
अल-जवाहिरी, अल कायदा प्रमुख
ADVERTISEMENT

जरुरत पड़ेगी तो करेंगे कार्यवाई-कर्नाटक सरकार

अल कायदा प्रमुख के इस बयान पर कर्नाटक सरकार में मंत्री BC Nagesh ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि "आतंकवादी हर मौके का इस्तेमाल शांति भंग करने और भारत में लोगों के बीच दरार पैदा करने के लिए करना चाहते हैं".

"ये लोग कभी सफल नहीं हो पाएंगे. गृह मंत्रालय ऐसी चीजों का निरीक्षण करेगा और यदि जरुरत पड़ी तो कार्रवाई करेंगे"
BC Nagesh, कर्नाटक सरकार में मंत्री

लादेन का राइट हैंड था अल-जवाहिरी

अल-जवाहिरी ओसामा बिन लादेन का डिप्टी था जब अल कायदा ने अमेरिका पर 9/11 का हमला किया था. 2011 में ओसामा बिन लादेन की मौत के बाद इस खूंखार समूह के प्रमुख के रूप में अल-जवाहिरी उत्तराधिकारी बना.

2020 में ऐसी खबरें थीं कि अल-जवाहिरी की प्राकृतिक कारणों से मृत्यु हो गई थी. लेकिन 11 सितंबर 2021 को न्यूयॉर्क में 9/11 के आतंकी हमले के दो दशक बीत जाने के मौके पर अल-जवाहिरी ने एक वीडियो जारी कर दुनिया को बता दिया कि वह मरा नहीं है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
और देखें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×