ADVERTISEMENTREMOVE AD
मेंबर्स के लिए
lock close icon

'हमास के उग्रवादी पैराशूट से आए, PUBG जैसे हालात': इजरायल से बचकर निकले नेपाली छात्र

Israel-Hamas War: क्विंट ने उन नेपाली छात्रों से बात की जो 13 अक्टूबर को विशेष रेस्क्यू फ्लाइट के जरिए काठमांडू पहुंचे.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

Israel-Hamas War: "हमारे दो दोस्तों की गोली मारकर हत्या करने के बाद, हमास के उग्रवादियों ने उस बंकर के अंदर दो बम फेंक दिए, जिसमें हम शरण लिए हुए थे."

यह बात 17 वर्षीय नेपाली छात्र नितिन भंडारी ने बताई, जो एक महीने से अधिक समय से इजरायल में था.

शनिवार, 7 अक्टूबर को चरमपंथी समूह हमास ने इजरायल पर कथित तौर पर 5,000 रॉकेट लॉन्च किए. इसके बाद पूरे दक्षिणी इजरायल में सायरन बज उठे. ऐसे में भंडारी ने नेपाल के अन्य छात्रों के साथ दक्षिणी इजरायल में स्थित अलुमिम किबुत्ज (फार्म) के पास एक बंकर में शरण ली थी.

0
ADVERTISEMENTREMOVE AD
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×