ADVERTISEMENT

नेपाल ने इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए कोविशील्ड वैक्सीन को मंजूरी दी

भारत में तैयार की गई ऑक्सफोर्ट-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन का इस्तेमाल करेगा नेपाल

Published
सांकेतिक तस्वीर
i

भारत के साथ एक प्रमुख कोविड वैक्सीन समझौते पर हस्ताक्षर करने से पहले, शुक्रवार को, नेपाल के डिपार्टमेंट ऑफ ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (डीडीए) ने देश में भारत-निर्मित कोरोनावायरस वैक्सीन कोविशील्ड के आपातकालीन उपयोग की अनुमति दे दी है.

नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ग्यावली वर्तमान में नेपाल-भारत संयुक्त आयोग की छठी बैठक में हिस्सा लेने के लिए नई दिल्ली में हैं. दोनों पक्ष भारत में निर्मित कोविड वैक्सीन के सहयोग के लिए संभवत: हस्ताक्षर कर सकते हैं.

नेपाल में पहली वैक्सीन को मिली है मंजूरी

विभाग ने कहा, ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और एस्ट्रा-जेनेका द्वारा विकसित और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा विकसित किए गए टीके को आपातकालीन उपयोग के लिए सशर्त अनुमति दी गई है.

डीडीए ने दो दिन पहले आपातकालीन उपयोग के लिए टीके के पंजीकरण का आह्वान किया था.

यह पहली बार है कि किसी कोविड -19 वैक्सीन को नेपाल में उपयोग के लिए अनुमोदित किया गया है. चीन और रूस जैसे अन्य विनिर्माण देश भी नेपाल को वैक्सीन प्रदान करने में रुचि रखते थे, लेकिन जलवायु परिस्थितियों, मूल्य निर्धारण, रसद सुविधा और आयात में आसानी के कारण, नेपाल ने भारतीय कोविड वैक्सीन को प्राथमिकता दी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT