ADVERTISEMENTREMOVE AD

रूसी राष्ट्रपति के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी, पुतिन पर क्या आरोप लगे हैं?

Vladimir Putin Arrest Warrant: पुतिन के खिलाफ वारंट जारी होने पर रूस ने क्या कहा?

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

यूक्रेनी बच्चों को निर्वासित करने सहित युद्ध अपराधों के लिए अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायालय (International Criminal Court) ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के लिए गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. कोर्ट ने पुतिन पर वॉर क्राइम जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं. साथ ही रूसी राष्ट्रपति पर यूक्रेनी बच्चों को अवैध तरीके से जबरन रूस ले जाने का भी आरोप है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पुतिन पर क्या आरोप है?

रूसी राष्ट्रपति पर यूक्रेनी बच्चों को अवैध तरीके से जबरन रूस ले जाने का भी आरोप है. ICC ने पुतिन पर बच्चों के निर्वासन में शामिल होने का आरोप लगाया है, और कहा है कि उसके पास यह मानने के लिए उचित आधार हैं कि उन्होंने सीधे तौर पर इन कृत्यों को अंजाम दिया, साथ ही साथ दूसरों की इसमें मदद भी की. अदालत ने यह भी कहा कि रूसी राष्ट्रपति बच्चों को निर्वासित करने वाले अन्य लोगों को रोकने के लिए अपने अधिकारों का प्रयोग करने में विफल रहे.

यह महत्वपूर्ण क्यों है?

  • पुतिन संभवतः सर्वोच्च रैंकिंग वाले रूसी अधिकारी हैं, जिनकी गिरफ्तारी ICC द्वारा मांगी गई है.

  • अदालत ने इसी तरह के आरोपों पर रूसी संघ के राष्ट्रपति के कार्यालय में बाल अधिकार आयुक्त मारिया अलेक्सेयेवना लावोवा-बेलोवा की गिरफ्तारी का वारंट भी जारी किया है.

इसके पीछे की तस्वीर क्या है?

वारंट एक दिन बाद आता है जब संयुक्त राष्ट्र समर्थित जांच में पाया गया कि रूसी क्षेत्र में यूक्रेनियन के खिलाफ कथित रूप से अपराध किए गए थे, जिसमें यूक्रेनी बच्चों का निर्वासन भी शामिल था, जिन्हें कथित तौर पर उनके परिवारों के साथ पुनर्मिलन से रोका गया था.

स्नैपशॉट
  • अल जजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक 18 पन्नों की रिपोर्ट 500 से अधिक साक्षात्कारों, उपग्रह चित्रों और निरोध स्थलों और कब्रों के दौरे पर आधारित है.

  • हालांकि, रूस ने यूक्रेन में अत्याचार करने या नागरिकों पर हमला करने से इनकार किया है.

  • इससे पहले, रवांडा और पूर्व यूगोस्लाविया में संयुक्त राष्ट्र की जांच की देखरेख करने वाले स्विस वकील कार्ला डेल पोंटे ने उनकी गिरफ्तारी का आग्रह किया था.

  • डेल पोंटे ने एक स्विस अखबार को बताया था कि "पुतिन एक युद्ध अपराधी हैं."

यूक्रेन ने क्या कहा?

वारंट पर यूक्रेन की तरफ से भी प्रतिक्रिया दी गई है. इस पर यूक्रेन ने कहा कि यह तो सिर्फ शुरुआत है. वारंट के बाद अब पुतिन के सामने और भी मुश्किल चुतौतियां आने वाली हैं.

रूस ने क्या कहा?

इस मामले पर रूस का कहना है कि रूस के सैन्य बलों ने अपने पड़ोसी देश यानी यूक्रेन पर आक्रमण के दौरान कोई भी अत्याचार नहीं किया. ICC ने बच्चों के अवैध निर्वासन और यूक्रेन से रूस में लोगों के अवैध हस्तांतरण के शक में पुतिन की गिरफ्तारी का वारंट जारी किया. कोर्ट ने रूस के बच्चों के अधिकारों के आयुक्त मारिया अलेक्सेयेवना लावोवा-बेलोवा के लिए समान आरोपों के लिए वारंट जारी किया.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×