ADVERTISEMENTREMOVE AD

रूस-यूक्रेन युद्ध: मारियुपोल में फंसे नागरिक सुरक्षित बाहर निकाले जाएंगे

मारियुपोल में ऑपरेशन का तीसरा चरण चल रहा है

Published
story-hero-img
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female
ADVERTISEMENTREMOVE AD
कीव, 6 मई (आईएएनएस)। यूक्रेन की उपप्रधानमंत्री इरिना वीरेशचुक ने घोषणा की है कि शुक्रवार को शहर मारियुपोल से और लोगों को निकालने की योजना बनाई जा रही है।

यूक्रेइंस्का प्रावदा के अनुसार, गुरुवार देर रात एक सोशल मीडिया पोस्ट में वीरेशचुक ने मारियुपोल में लोगों से दोपहर 12 बजे पोर्ट-सिटी शॉपिंग मॉल के सामने इकट्ठा होने का आग्रह किया।

मंत्री की घोषणा संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के कहने के कुछ ही घंटों बाद हुई कि अजोवस्टल संयंत्र से नागरिकों को निकालने का तीसरा चरण मारियुपोल में शुरू होगा।

सुरक्षा परिषद को संबोधित करते हुए संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा, मारियुपोल नागरिकों को बचाने के लिए एक ऑपरेशन का तीसरा चरण वर्तमान में चल रहा है। लेकिन हमारी नीति यह है कि ऑपरेशन खत्म होने तक इसके विवरण का खुलासा नहीं करना है ताकि इसे बाधित न किया जा सके।

गुटेरेस ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र और रेड क्रॉस की अंतरराष्ट्रीय समिति के प्रतिनिधि एक जटिल ऑपरेशन कर रहे थे और यूक्रेनी सरकार और रूसी सेना दोनों के साथ अपने कार्यों का समन्वय कर रहे थे।

महासचिव ने आशा व्यक्त की है कि भविष्य में युद्धविराम पर जोर दिया जाएगा ताकि अन्य हॉटस्पॉट में नागरिकों को बचाया जा सके।

इससे पहले गुरुवार को, संयुक्त राष्ट्र में मानवीय मामलों के अवर महासचिव और आपातकालीन राहत समन्वयक मार्टिन ग्रिफिथ्स ने घोषणा की थी कि अजोवस्टल संयंत्र के लिए बसों का एक नया काफिला रवाना हुआ था। उन्होंने कहा कि बसें 200 नागरिकों को युद्ध क्षेत्र से बाहर ले जाएंगी।

रविवार को, यूक्रेनी सरकार, संयुक्त राष्ट्र और आईसीआरसी की सहायता से अजोवस्टल बंकरों में छिपे कुछ नागरिकों को निकालने में सफल रही। निकासी काफिला मंगलवार को जापोरिज्या पहुंचा।

अगले दिन, संयुक्त राष्ट्र और आईसीआरसी द्वारा सुगम निकासी अभियान के दूसरे चरण के हिस्से के रूप में, मारियुपोल कॉरिडोर के माध्यम से 344 नागरिकों को जापोरिज्‍जया में निकाला गया।

--आईएएनएस

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें