TikTok इनके लिए महज एक प्लेटफॉर्म नहीं उड़ान भरने के लिए ‘पंख’ था

टिकटॉक के लाखों की तादाद वाले कंटेट क्रिएटर्स ऐप के बैन के बाद अब किस प्लेटफॉर्म का रुख करेंगे?

Published
टिकटॉक ऐप के लाखों की तादाद वाले कंटेट क्रिएटर्स एप्प के बैन के बाद अब किस प्लेटफॉर्म का रुख करेंगे?
i

कभी क्रिंज कंटेंट के आरोप लगे तो कभी पोर्न को बढावा देने के कारण अस्थायी बैन लगा, इन सबके बीच टियर-2 टियर-3 शहरों के लाखों लड़कों-लड़कियों ने इस प्लेटफॉर्म पर वीडियोज बनाना और खुद को स्थापित करने की होड़ करना नहीं छोड़ा. कुछ ऐसा रहा है टिकटॉक का भारत में सफर जिस पर अब फुलस्टॉप लगा दिया गया है.

भारत-चीन सीमा विवाद के बाद पर #BoycottChineseApps की मुहिम चली, 29 जून शाम को सरकार का एक फैसला सामने आए जिसमें 59 चीनी ऐप्स पर बैन की बात थी. इनमें से बेहद पॉपुलर ऐप टिकटॉक भी शामिल था. सरकार का कहना है कि ये ऐप्स डेटा जुटाती हैं, माइनिंग और प्रोफाइलिंग करती हैं, जो देश की सुरक्षा के लिए सही नहीं था, ऐसे में बैन के इस कदम की जरूरत थी.

आज के इस पॉडकास्ट में बात होगी टिकटॉक ऐप के बैन के बाद इसके कंटेट क्रिएटर्स - लाखों की तादाद वाले ये कंटेंट किएटर - अब किस प्लेटफॉर्म का रुख करेंगे? गांव-देहात-मोहल्ले-कस्बे के ये लड़के-लड़कियां टिकटॉक जैसा वीडियो मेकिंग फीचर कहां हासिल करेंगे? साथ ही बात होगी इनके सपनों के उड़ान की भी, जिसे टिकटॉक ने पंख दिए थे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!