ADVERTISEMENTREMOVE AD

उर्दूनामा पॉडकास्ट: इस 'आलम' में, हम सब सिर्फ टूरिस्ट हैं!

डार्क मैटर से लेकर किसी प्रियजन की लालसा तक, दुनिया आश्चर्य और सबक से भरी है

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

उर्दूनामा के इस बेहद खास एपिसोड में, फ़बेहा सैयद उर्दू शेर-ओ-शायरी के 'आलम' या दुनिया पर प्रकाश डालती हैं. फ़ैज़ अहमद फ़ैज़, बहादुर शाह ज़फ़र और अल्लामा इक़बाल के कुछ गहन विचारों की खोज से, हम समझेंगे हैं कि महान विचारकों ने दुनिया के बारे में कैसे विचार किया है. डार्क मैटर से लेकर किसी प्रियजन की लालसा तक, दुनिया आश्चर्य और सबक से भरी है.

'आप की कलम से' सेक्शन में, हम सुप्रिया नेवार की कविता प्रस्तुत कर रहे हैं, उनकी किताब 'जुस्तजू' से.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
×
×