ADVERTISEMENTREMOVE AD

Urdunama Podcast | फ़राज़ से आज़र अमरोहवी तक, उर्दू शायरी में नए 'आगाज़' की चिंगारी

मशहूर शायरों के कलाम के जरिए उम्मीदें जगाने और ख्वाबों को पंख देने के लिए 'आगाज़' के कॉन्सेप्ट के बारे में जानिए.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

2024 के पहले उर्दूनामा (Urdunama) में, फ़बेहा सैयद 'Beginning' के उर्दू लफ़्ज़ 'आगाज़', के बारे में बातचीत करती हैं. 'आगाज़' सिर्फ एक शुरुआती जगह नहीं है, बल्कि एक ताकतवर चिंगारी है, जो उम्मीदें जगाती है, ख्वाबों को पंख देती है और हमें अनजान की तरफ आगे बढ़ाती है.

पॉडकास्ट को आख़िरी तक सुनें क्योंकि इस सेगमेंट में आपके अहमद फ़राज़ और कफील आज़र अमरोहवी के कलाम सुनने को मिलेंगे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
×
×