पटना साहिब गुरुद्वारे में लालू प्रसाद यादव. (फोटो: PTI)
| 1 मिनट में पढ़िए

अब लालू प्रसाद यादव को चाहिए हर महीने 10 हजार रुपए पेंशन

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने जयप्रकाश (जेपी) सेनानी सम्मान योजना के तहत पेंशन के लिए आवेदन पत्र जमा किया है. यह आवेदन बिहार के गृह विभाग को भेजा गया है. लालू प्रसाद के नजदीकी और बहादुरपुर विधानसभा क्षेत्र से राजद विधायक भोला यादव ने बुधवार को मीडिया को ये जानकारी दी. सारी प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद लालू प्रसाद के आवेदन को पेंशन भुगतान के लिए गृह विभाग में भेजा गया है.

जेपी सेनानी सम्मान योजना के तहत लालू प्रसाद को प्रतिमाह 10 हजार रुपये की राशि पेंशन के रूप में मिलेगी, क्योंकि उन्होंने जेपी आंदोलन के दौरान छह से अधिक माह जेल में गुजारा था. जेपी सम्मान पेंशन राशि की दो श्रेणियां है. जेपी आंदोलन के दौरान छह माह से कम जेल में रहने वालों को राज्य सरकार पांच हजार रुपये पेंशन के रूप में देती है, जबकि छह माह से ज्यादा जेल में रहने वाले व्यक्तियों के लिए पेंशन की राशि 10 हजार रुपये प्रतिमाह है.

बिहार में वर्ष 2009 से लागू इस योजना में वर्तमान समय में 2,500 से ज्यादा व्यक्तियों को लाभ मिल रहा है. उल्लेखनीय है कि वर्ष 1974 में जयप्रकाश नारायण ने 'संपूर्ण क्रांति' का नारा दिया था. उन्होंने इंदिरा गांधी की सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए यह आह्वान किया था. लोकनायक ने कहा था कि संपूर्ण क्रांति में सात क्रांतियां- राजनीतिक, आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, बौद्धिक, शैक्षणिक व आध्यात्मिक क्रांति शामिल हैं. इन सातों क्रांतियों का समग्र रूप 'संपूर्ण क्रांति' है.