रितु फोगाट के खून में है कुश्ती, फिर भी क्यों चुना MMA?

रितु फोगाट ने 2019 में ही कुश्ती छोड़कर MMA का रुख किया था.

Updated16 Nov 2019, 07:59 AM IST
अन्य खेल
2 min read

कॉमनवेल्थ कुश्ती चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीत चुकीं भारत की महिला पहलवान रितु फोगाट कुश्ती के अखाड़े में ताल ठोकने के बाद अब प्रोफेशनल मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स (एमएमए) में उतरेंगी. वन चैंपियनशिप के 'एज ऑफ ड्रैगन्स' इवेंट में शनिवार 16 नवंबर को रितु का पहला मुकाबला बीजिंग के कैडिलैक एरेना में साउथ कोरिया की किम नाम से होगा.

प्रोफेशनल MMA में अपने मैच से पहले 24 वर्षीय रितु ने साफ कर दिया की इस खेल में आने का उनका एक ही मकसद है. रितु ने कहा, "में मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में विश्व चैंपियन बनना चाहती हूं. अभी मैं जो भी कर रही हूं वह मुझे उसी दिशा में आगे लेकर जा रहा है."

रितु ने कहा,

“मैंने इस नए खेल में अपना पूरा दिल लगा दिया है. मैं MMA में वर्ल्ड टाइटल जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनने के लिए लडूंगी. इस खेल में मैं अपने देश का प्रतिनिधित्व कर रही हूं. यह मेरे लिए बहुत गर्व की बात है.”

रितु ने पहले भारत के लिए कुश्ती में कई सम्मान अर्जित किए हैं. उन्होंनेराष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक और अंडर-23 कुश्ती चैम्पियनशिप के 48 किलोग्राम भारवर्ग में रजत पदक अपने नाम किया था.

रितु भारतीय खेल में प्रसिद्ध फोगाट परिवार से आती हैं जिनकी कहानी बॉलीवुड की सुपरहिट फिल्म 'दंगल' में दशाई गई थी. उनके पिता महावीर सिंह फोगाट एक जाने-माने पहलवान और कुश्ती के प्रशिक्षक हैं और उनकी बहनें गीता, बबिता और संगीता कुश्ती में चैंपियन रह चुकी हैं.

रितु अपने परिवार की पहली ऐसी सदस्य है जो एक खेल में महारथ हासिल करके दूसरे खेल में कूद पड़ी हैं.

उन्होंने कहा,

“मैं भारतीय मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स के लिए विश्व स्तर पर सफलता पाना चाहती हूं. दुनिया के सामने अपने देश की संस्कृति एवं इतिहास का सम्मान करना मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण है. लेकिन सबसे पहले मुझे शनिवार को जीत हासिल करनी होगी. मैंने मैच के लिए बहुत अच्छी तैयारी की है, पर यह मेरी पहली लड़ाई है और इससे मुझे पता चलेगा की आगे क्या करना है.”

रितु के कोच पूर्व विश्व चैंपियन ड्रियन फ्रांसिस्को और ब्राजील के जू-जुत्सु वर्ल्ड चैम्पियन तेको शिंजातो हैं. दोनों का मानना है की रितु पिछले कुछ महीनों में एक फाइटर के तौर पर बहुत आगे बढ़ी हैं.

फ्रांसिस्को कहते हैं, "जब रितु ने पहली बार सिंगापुर में ट्रेनिंग की तो उन्हें स्ट्राइकिंग की कोई जानकारी नहीं थी. पर अब वह मुक्का, लात और कुश्ती का सम्मिलित प्रयोग करना सीख गई है. रितु मेहनती हैं और नई चीजें जल्दी सिख लेती हैं."

शिंजातो जो सिंगापुर की जु-जुत्सु टीम के भी कोच हैं यह मानते हैं की रितु का 'ग्राउंड गेम' में काफी अच्छा हो गया है. उन्होंने कहा, "वह कुश्ती खेल चुकी हैं इसलिए टेकडाउन बहुत अच्छे से कर लेती है. मैं उसको आधार बनाकर रितु को एक ऑल-राउंडर फाइटर में बनाने की कोशिश कर रहा हूं."

रितु के एमएमए में पहले मुकाबले का प्रसारण शनिवार को शाम चार बजे स्टार स्पोर्ट्स सलेक्ट 2 पर होगा.

कब होगा रितु का मैच?

वनः एज ऑफ ड्रैगन्स का प्रसारण 16 नवंबर को दोपहर 2ः30 बजे से स्टार स्पोर्ट्स सेलेक्ट 2 पर होगा. मुख्य मुकाबला, रितु vs किम नाम, शाम 4 बजे से शुरू होगा.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 16 Nov 2019, 07:49 AM IST

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!