इंडिया-ऑस्ट्रेलिया मैच के दौरान भी उठी CAA-NRC के खिलाफ आवाज

मुंबई अगेन्स्ट CAA नाम के एक ग्रुप ने ये प्रोटेस्ट किया था

Updated14 Jan 2020, 05:37 PM IST
क्रिकेट
2 min read

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मंगलवार 14 जनवरी को खेले गये पहले वनडे मैच के दौरान मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में छात्रों का एक समूह नागरिकता संशोधन कानून (CAA), राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NCR) और राष्ट्रीय राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते दिखा.

इस समूह से जुड़े करीब 50 छात्रों ने सफेद टी-शर्ट पहनी थी, जिस पर ‘नो CAA’ , ‘नो NRC’, और ‘नो NPR’ लिखा हुआ था. ये छात्र हालांकि भारत की पारी खत्म होने से पहले स्टेडियम से निकल गए.

ये छात्र ‘मुंबई अगेन्स्ट सीएए’ समूह से जुड़े थे. इस ग्रुप ने एक प्रेस रिलीज जारी कर बताया कि ये लोग इस ज्यादा से ज्यादा लोगों के सामने इस कानून के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराना चाहते थे. समूह से जुड़े फवाद अहमद ने कहा,

‘‘इसमें 26 कुछ 26 लोग शामिल थे जो विजय मर्चेंट पवेलियन की तरफ बैठे थे. भारतीय टीम का विकेट जल्दी जल्दी गिरने लगा तब वे खुद ही मैदान से बाहर चले गये.’’

वहीं सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी खूब वायरल हो रहा है, जिसमें प्रदर्शन कर रहे इन छात्रों को देखकर स्टेडियम में मौजूद दर्शकों ने ‘मोदी-मोदी’ की नारेबाजी शुरू कर दी.

वहीं, सोशल मीडिया पर ऐसे खबरें आयीं थी कि काले कपड़ों में आये दर्शकों को स्टेडियम के सुरक्षाकर्मी अंदर आने से रोक रहे हैं लेकिन मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन की कमेटी ने दावा किया कि ऐसा कोई निर्देश नहीं जारी किया गया है.

एमसीए के एक सदस्य ने कहा,

‘‘किसी भी रंग को लेकर कोई निर्देश नहीं दिया गया था, स्टेडियम के अंदर किसी भी प्रकार के पोस्टर लगाने की अनुमति नहीं थी क्योंकि यह स्थानीय पुलिस का निर्देश था.’’

इससे पहले भारत और श्रीलंका के बीच गुवाहाटी में पहले टी20 मैच के दौरान भी स्टेडियम के अंदर CAA-NRC से जुड़ा मामला सामने आया था. उस दौरान राज्य में CAA के खिलाफ हुए जबरदस्त प्रदर्शनों को देखते हुए स्टेडियम में किसी भी तरह के बैनर या पोस्टर ले जाने पर रोक लगा दी गई थी.

हालांकि स्टेडियम में मौजूद राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, असर सरकार में मंत्री हिमंता बिस्वा सरमा और बीजेपी के खिलाफ नारेबाजी हुई थी.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 14 Jan 2020, 03:49 PM IST
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!