INDvsAUS सिडनी टेस्ट: दूसरे दिन का खेल खत्म, शुभमन गिल का अर्धशतक

सिडनी टेस्ट के दूसरे दिन रवींद्ग जडेजा ने भारत के लिए चार विकेट झटके.

Published
INDvsAUS सिडनी टेस्ट दूसरा दिन; शॉट लगाते शुभमन गिल
i

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (SCG) पर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच का दूसरा दिन शुक्रवार मेजबान टीम के स्टीव स्मिथ (Steve Smith), भारत के युवा बल्लेबाज शुभमन गिल (Shubhman Gill) और स्पिनर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) के नाम रहा. स्मिथ की संकट के समय खेली गई 131 रनों की पारी की मदद से ऑस्ट्रेलिया अपनी पहली पारी में 338 रन बना पाने मे सफल रही. जडेजा ने चार विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया का बड़ा स्कोर मुमकिन नहीं होने दिया.

स्मिथ हालांकि अपना शतक पूरा करने के साथ-साथ टीम को सम्मानजनक स्कोर दिलाने में सफल रहे. स्मिथ का यह भारत के खिलाफ आठवां और कुल 27वां टेस्ट शतक है.

ऑस्ट्रेलियाई स्कोर के सामने अपनी पहली पारी खेलने उतरी भारत ने दिन का अंत दो विकेट के नुकसान पर 96 रनों के साथ किया. इस स्कोर में से 50 रन युवा बल्लेबाज गिल के हैं. स्टम्प्स की घोषणा तक चेतेश्वर पुजारा नौ और अजिंक्य राहणे पांच रन बनाकर खेल रहे हैं.

अपनी पहली पारी खेलने उतरी भारत को पहली बार इस सीरीज में मजबूत शुरुआत मिली. गिल और रोहित शर्मा ने पहले विकेट के लिए 70 रन जोड़े. दोनों बल्लेबाज बड़ी आसानी से रन बना रहे थे. रोहित के रूप में भारत ने अपना पहला विकेट खोया। रोहित ने जोश हेजलवुड की गेंद को सीधे मारा, जिसे होजलवुड ने कैच कर लिया. रोहित ने 77 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्के के साथ 26 रन बनाए.

गिल ने अपनी पारी जारी रखी. उन्होंने नाथन लॉयन की गेंद पर स्कावयर लेग पर एक रन ले कर 31.3 ओवर में अपना पहला टेस्ट अर्धशतक पूरा किया. अपना दूसरा टेस्ट मैच खेल रहे गिल हालांकि इसके बाद अगले ही ओवर में पैट कमिंस का शिकार हो गए.

कमिंस की ऑफ स्टम्प के बाहर की गेंद को गिल ने गली की तरफ खेला जहां कैमरून ग्रीन ने उनका शानदार कैच लपका. गिल ने अपनी पारी में 101 गेंदों पर आठ चौके मारे.

स्मिथ ने अकेले संभाली पारी

इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया ने दिन की शुरुआत दो विकेट के नुकसान पर 166 रनों के साथ की. टीम ने दूसरे दिन अपने स्कोर में 172 रन जोड़े.

लाबुशैन 67 और स्मिथ ने 31 रनों से अपनी पारी शुरू की. लाबुशैन भारत के खिलाफ अपना पहला शतक नहीं जमा सके. जडेजा ने लाबुशैन को कप्तान अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच कराया. लाबुशैन ने अपनी पारी में 196 गेंदें खेलीं और 11 चौके मारे.

लाबुशैन के जाने के बाद स्मिथ को कोई विकेट पर खड़ा होने वाला बल्लेबाज नहीं मिला. मैथ्यू वेड (13) को भी जडेजा ने आउट किया और ग्रीन को बुमराह ने पवेलियन की राह दिखाई. ग्रीन 21 गेंदें खेलने के बाद भी खाता नहीं खोल पाए.

दिन के पहले सत्र में ऑस्ट्रेलिया ने यही तीन विकेट खोए. दूसरे सत्र में बुमराह ने आस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन को भी बिना खाता खोले ड्रेसिंग रूम भेज दिया. स्मिथ अकेले लड़ रहे थे. पैट कमिंस भी बिना रन बनाए जडेजा का शिकार बने. मिशेल स्टार्क ने जरूर कुछ अच्छे शॉट्स लगा कर 30 गेंदों पर 24 रन बनाए. स्मिथ के साथ उन्होंने 32 रन जोड़े जिसमें से सिर्फ आठ स्मिथ के थे.

नवदीप सैनी ने 310 के कुल स्कोर पर स्टार्क की छोटी लेकिन अहम पारी का अंत किया. इस बीच स्मिथ ने अपना शतक पूरा कर लिया. जडेजा ने नाथन लॉयन को भी खाता नहीं खोलने दिया.

स्मिथ के रूप में ऑस्ट्रेलिया ने अपना आखिरी विकेट खोया. वह रन आउट हुए. इसमें भी जडेजा का योगदान रहा जिनकी सीधी थ्रो विकेटों पर लगी और स्मिथ को पवेलियन लौटना पड़ा. स्मिथ इस शतक के साथ भारत के खिलाफ टेस्ट में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!