जियो ग्लास - अंबानी के इस बड़े ऐलान के पीछे है कौन सा स्टार्टअप?

इस आईवियर को पांच साल पुराने टेक स्टार्टअप टेसारेक्ट ने बनाया है

Updated20 Jul 2020, 07:52 AM IST
गैजेट
2 min read

मिक्सड रियलिटी (MR) को टेक्नोलॉजी भविष्य कहा जा रहा है. ऐसे में, रिलायंस जियो भी अपने नए प्रोडक्ट के साथ इस फील्ड में उतर गया है. रिलायंस जियो ने हाल ही में वार्षिक जनरल मीटिंग में जियो ग्लास लॉन्च किया, जो कि एक मिक्स्ड रियलिटी आईवियर है. लॉन्च होने के बाद से ही इस आईवियर के खूब चर्चे हो रहे हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसे बनाने वाली कोई दिग्गज कंपनी नहीं, बल्कि कुछ साल पहले का एक स्टार्टअप है.

इस आईवियर को पांच साल पुराने टेक स्टार्टअप टेसारेक्ट ने बनाया है. इस स्टार्टअप को क्षितिज मारवाह ने मुंबई के एक वेयरहाउस में शुरू किया था.

पिछले साल रिलायंस इंडस्ट्री (RIL) ने इस स्टार्टअप को खरीदा था. इसे कितने में खरीदा गया था, जिसकी जानकारी नहीं दी गई थी. टेसारेक्ट कंपनी RIL की सब्सिडायरी है, लेकिन स्वतंत्र रूप से काम करती है.

55 लोगों वाला ये स्टार्टअप अब तक कई टेक प्रोडक्ट लॉन्च कर चुका है. इसमें वर्चुअल रियलिटी 360 डिग्री कैमरा मिथेन शामिल है, जिसे रियल-एस्टेट कंपनी हाउसिंग डॉटकॉम और मेकमाईट्रिप जैसी ट्रैवल साइट्स ने काफी पसंद किया. इसके अलावा, क्वॉर्क नाम का वीआर 360 डिग्री कैमरा, जिसे कंटेंट बनाने के लिए स्मार्टफोन से भी अटैच किया जा सकता है.

टेसारेक्ट के मुताबिक, जियो ग्लास का इस्तेमाल अभी केवल घरों के अंदर के लिए किया जा सकता है.

जियो ग्लास की कीमत को लेकर अभी कोई ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन ई-कॉमर्स वेबसाइट्स पर इसी तरह के प्रोडक्ट्स 37 से 40 हजार के बीच में बिक रहे हैं.

RIL की 5G टेक्नोलॉजी इसमें अहम?

ब्लूमबर्ग क्विंट की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रिलायंस की 5जी टेक्नोलॉजी इस प्रोडक्ट के इस्तेमाल में अहम भूमिका निभा सकती है. रिलायंस अभी अपनी खुद की 5जी टेक्नोलॉजी डेवलप कर रहा है. कहा जा रहा है 5जी मिक्स्ड रियलिटी सर्विस के लिए अहम है. 5जी की स्पीड की मदद से, इस सर्विस को इस्तेमाल करने का एक्सपीरियंस बदल जाएगा. ऐसे में, RIL की 5जी टेक्नोलॉजी के जरिये लोग जियो ग्लास का जब चाहे तब इस्तेमाल कर सकते हैं.

स्टार्टअप ने बनाया सोशल डिस्टेंसिंग के लिए हैंड बैंड

आईआईएम कोझिकोड के एक स्टार्टअप ने ऐसा हैंड बैंड बनाया है, जो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने में लोगों की मदद करेगा. इस हैंड बैंड को पहनने के बाद, अगर किसी से फिजिकल डिस्टेंस ज्यादा हो रहा होगा, तो ये अलार्म भेजेगा. Qual5 इंडिया प्राइवेट नाम के स्टार्टअप ने ये बैंड बनाया है. प्रोडक्ट का नाम वेली बैंड है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 20 Jul 2020, 07:45 AM IST
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!