सैमसंग गैलेक्सी फोल्ड: जितनी कीमत, क्या उतना फायदेमंद है ये फोन?

सैमसंग गैलेक्सी फोल्ड: जितनी कीमत, क्या उतना फायदेमंद है ये फोन?

टेक और ऑटो

वीडियो एडिटर: दीप्ति रामदास

सैमसंग गैलेक्सी फोल्ड कई संभावानाओं वाला फोन है. ये फोन बाकी कंपनियों के लिए फोल्ड होने वाले डिसप्ले बनाने का एक बेंचमार्क तय करता है. लेकिन एक फोन के तौर पर इसमें कमियां हैं.
करीब एक हफ्ते तक गैलेक्सी फोल्ड का इस्तेमाल करने के बाद हम अपना पुराना फोन ही इस्तेमाल करना चाहते थे.

Loading...

सैमसंग ने एक ऐसे फोन को लॉन्च करने का साहसी कदम उठाया जो कि एक प्रोटोटाइप जैसा दिखता है. डिसप्ले की क्रीज थोड़ी खटकती है.

वीडियो देखते वक्त और स्मार्टफोन के बाकी के काम करने पर ये क्रीज छुप तो जाती है लेकिन एक ऐसा फोन जो कि बाइक जितनी महंगी है, उसके साथ कोई समझौता इंसान नहीं चाहेगा.

कुछ विदेशी वेबसाइटों के मुताबिक इस फोन की टेस्टिंग के दौरान उन्होंने इसे तोड़ भी दिया और ये बताता है कि गैलेक्सी फोल्ड में दिक्कतें हैं.

ये काफी पेचीदा है. आगे चलकर ये एक दिक्कत हो सकती है लेकिन फोन को मोड़ पाना सबसे कूल फीचर है.

इस फोन में वीडियो देखना अपने आप में ही अलग अनुभव है और बड़ी स्क्रीन का होना भी सोने पे सुहागा जैसा है. साउंड क्वालिटी जबरदस्त है और छोटे कमरे के लिए काफी तेज है. इसमें बेहतरीन हार्डवेयर का इस्तेमाल किया गया है तो यहां कोई दिक्कत नहीं है.

ये टेक्स्ट करने के लिहाज से अच्छा फोन नहीं है. फ्रंट स्क्रीन पर आने वाला डिसप्ले काफी छोटा है तो मोटी उंगलियों वालों को टाइप करने में दिक्कत आ सकती है और बड़ी डिसप्ले एक हाथ से टाइप करने के लिए अनुकूल नहीं है.

7.3 इंच की बड़ी डिसप्ले मल्टी टास्किंग के लिए बिल्कुल ठीक है क्योंकि एक साथ 3 ऐप पर काम किया जा सकता है. एक आम स्मार्टफोन में एक बार में 2 ऐप ही खोले जा सकते हैं.

कैमरा नोट 10+ जैसा ही है. बस एक्सट्रा सेंसर को छोड़कर. वैसे बता दें कि इसमें 6 सेंसर हैं. इस फोन का इस्तेमाल करते वक्त आपको थोड़ी ज्यादा सावधानी बरतनी होगी क्योंकि इसका कोई अंदाजा नहीं है कि अगर एक बार ये फोन गिर गया तो फोन को कितना नुकसान हो सकता है.

ये सिर्फ पतला सा ही नहीं लगता बल्की थोड़ा भारी भी है. आप इसके लिए कवर जरूर खरीदें.

सैमसंग को इसके साथ एक पेन भी देना चाहिए था. डिसप्ले का साइज के मुताबिक पेन इसके साथ ठीक काम करता. और वैसे भी ये सब टैबलेट के साथ ठीक बैठता है. वही एक ऐसा एरिया है जहां सैमसंग को फोल्ड होने वाले डिसप्ले के बारे में सोचना चाहिए.

इस तरह के फोन का उपयोग में आना थोड़ा सीमित है. 1 लाख 65 हजार रुपये के सैमसंग फोल्ड खरीदने के लिए सिर्फ मोटी जेब ही नहीं बल्कि मजबूत दिल होना भी जरूरी है.

मोटो रेजर देखकर लगता है कि उसमें फोल्ड होने वाली तकनीक का बेहतरीन उपयोग किया गया है. लेकिन गैलेक्सी फोल्ड भविष्य का फोन बनने की बहुत कोशिश कर रहा है लेकिन अपने आज के साथ समझौता कर रहा है.

ये भी पढ़ें : गूगल ने लॉन्च की क्लाउड गेमिंग सर्विस ‘स्टेडिया’

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our टेक और ऑटो section for more stories.

टेक और ऑटो
    Loading...