TikTok और HELO से सरकार के 21 सवाल, जवाब नहीं मिला तो कर देंगे बैन
भारत में टिकटॉक पर लगे बैन से भारी नुकसान उठा रही है कंपनी
भारत में टिकटॉक पर लगे बैन से भारी नुकसान उठा रही है कंपनी(फोटो: श्रुति माथुर/क्विंट हिंदी)

TikTok और HELO से सरकार के 21 सवाल, जवाब नहीं मिला तो कर देंगे बैन

‘भारत विरोधी कंटेंट’ और अश्लील वीडियो क्लिप्स शेयर किए जाने को देखते हुए भारत सरकार ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टिक-टॉक और हेलो पर नजरें जमाना शुरू कर दिया है. केंद्र सरकार ने टिक टॉक और हेलो को नोटिस भेजा है. सरकार ने नोटिस के जरिए दोनों से 21 सवालों के जवाब मांगे हैं. यहीं नहीं सरकार ने जवाब नहीं देने पर बैन की चेतावनी दी है.

ये भी पढ़ें : सेल्फी और टिक-टॉक वीडियो बनाने के चक्कर में यमुना में डूबा युवक

Loading...

RSS से जुड़े स्वदेशी जागरण मंच के कहने पर कार्रवाई

इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने यह कार्रवाई राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े स्वदेशी जागरण मंच की ओर से प्रधानमंत्री को भेजी गयी एक शिकायत पर की है. इस शिकायत में आरोप लगाया गया है कि इन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में हो रहा है.

सूत्रों ने बताया कि मंत्रालय ने टिकटॉक और हेलो से ‘राष्ट्र विरोधी गतिविधियों का केंद्र’ बनने के आरोपों पर 22 जुलाई तक संतोषजनक जवाब मांगा है. साथ ही भारतीय यूजर्स का डाटा मौजूदा समय में और बाद में भी किसी विदेशी सरकार, थर्ड पार्टी या प्राइवेट कंपनी को ट्रांसफर नहीं करने का आश्वासन देने के लिए कहा है.

इसके अलावा मंत्रालय ने दोनों प्लेटफॉर्म से भारतीय कानूनों का पालन करने और फर्जी खबर की जांच के लिए पहल शुरू करने पर भी जवाब मांगा है.

टिकटॉक- हेलो से पूछे गए ये सवाल

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सरकार ने टिकटॉक से जो 21 सवाल पूछे हैं वो हैं-

  • क्या भारतीय यूजर्स के डेटा को कहीं और भी स्टोर किया जा रहा है? क्या चीन में भी यहां का डेटा स्टोर हो रहा है?
  • टिकटॉक से सरकार ने पूछा है कि आपत्तिजनक कंटेंट पर किस तरह नजर रख रही है? और प्लेटफॉर्म किसी भी आपत्तिजनक कंटेट मिलता है तो उसे कैसे रोकता है.
  • 18 साल से कम उम्र के लोगों के लिए क्या नियम है?
  • फर्जी खबर की जांच के लिए क्या रास्ता अपनाया है

टिकटॉक की सफाई

हालांकि, टिकटॉक ने कहा है कि वह सरकार के साथ सहयोग करने को तैयार है. टिकटॉक और हेलो ने एक साझा बयान में कहा,

‘‘हम भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था द्वारा हमें मिले अपार सहयोग के लिए आभारी हैं. भारत सबसे मजबूत बाजारों में से एक है. भारत के लिए हमारी प्रतिबद्धता के अनुरूप हम अगले तीन सालों में भारत में एक अरब डॉलर का निवेश कर रहे हैं. भारत में हमारी सफलता हमारे स्थानीय समुदाय के सहयोग के बिना संभव नहीं होगी. हम इस समुदाय की जिम्मेदारियों को गंभीरता से लेते हैं और अपने दायित्वों को पूरा करने के लिए सरकार के साथ पूरा सहयोग करने के इस अवसर का स्वागत करते हैं.’’

टिक टॉक पर 20 करोड़ भारतीय यूजर्स

भारत में 'टिक टॉक' को करीब 20 करोड़ लोगों ने इस्तेमाल करते हैं. इस ऐप के जरिए लोग फनी वीडियो, एक्टिंग, गाने और अलग अलग तरह के कंटेंट बनाते रहते हैं. पिछले कुछ दिनों में ये गांव से लेकर शहर तक में काफी लोकप्रिय हुआ है.

ये भी पढ़ें : हॉस्पिटल में डांस करती नर्स के बाद अटेंडेंट का वीडियो वायरल 

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our टेक और ऑटो section for more stories.

    Loading...