ADVERTISEMENT

UP: कैराना से SP विधायक नाहिद हसन गिरफ्तार, बोले- मैं योगी की तरह नहीं रोऊंगा

यूपी चुनाव: कैराना विधानसभा से समाजवादी पार्टी ने नाहिद हसन को फिर से अपना उम्मीदवार बनाया है.

<div class="paragraphs"><p>UP: कैराना से SP विधायक नाहिद हसन गिरफ्तार, बोले-मैं योगी की तरह नही रोऊंगा</p></div>
i

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कैराना (Kairana) में पुलिस ने बड़े ही नाटकीय ढ़ंग से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी और वर्तमान विधायक नाहिद हसन (Nahid Hasan) को गिरफ्तार किया है. नाहिद गैंगेस्टर एक्ट के मुकदमें में वांछित चल रहे थे और गिरफ्तारी के डर से कैराना में अपने घर भी नहीं जा रहे थे. जेल ले जाते समय उन्होंने मीडिया से कहा कि मैं फर्जी मुकदमों पर योगी आदित्यनाथ की तरह रोने वाले नही हैं.

ADVERTISEMENT
गौरतलब है कि कैराना विधानसभा से समाजवादी पार्टी ने नाहिद हसन को फिर से अपना उम्मीदवार बनाया है.

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, समाजवादी पार्टी द्वारा 2022 चुनाव के लिए कैराना के विधायक नाहिद हसन को टिकट दिया गया है. नाहिद हसन लगातार दो बार कैराना विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव जीत चुके हैं, लेकिन विवादों से उनका पुराना रिश्ता बताया जाता है.

2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी की सरकार बनने के बाद कैराना के विधायक नाहिद हसन की मुश्किलें काफी बढ़ गई थी. इस दौरान पुलिस की सख्ती के चलते उन्हें कई बार कानूनी कार्रवाई का सामना भी करना पड़ा, यहां तक की 2020 में उन्हें जेल में भी रहना पड़ा था.

फिलहाल विधायक नाहिद हसन गैंगेस्टर एक्ट के एक मुकदमें में वांछित चल रहे थे, जिसमें शनिवार को पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार करते हुए कोर्ट के सामने पेश किया. हालांकि, विधायक की गिरफ्तारी बड़े ही नाटकीय ढ़ग से हुई.

विधायक की गाड़ियों का काफिला औद्योगिक क्षेत्र स्थित पुलिस चौकी की तरफ से कैराना में घुसा. यहां पर विधायक कोर्ट परिसर के सामने गाड़ी से उतरे, जहां पर पहले से ही मौजूद कैराना कोतवाली प्रभारी और अन्य पुलिसकर्मी उनका हाथ पकड़कर कोर्ट में घुस गए.

मैं योगी की तरह रोने वाला नही हूं - नाहिद

कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन का नोमिनेशन फाइल करने के बाद जेल चले जाना राजनैतिक दांव पेंच माना जा रहा है. दरअसल, कैराना क्षेत्र में पिछले काफी समय से विधायक द्वारा सरेंडर कर जेल से चुनाव लड़ने की चर्चांए गर्म थी, लेकिन यदि वें पहले गिरफ्तारी देते, तो चुनावी नजरिये से उनकी मुश्किलें बढ़ सकती थी.

फिलहाल बतौर प्रत्याशी पर्चा दाखिल करने के बाद हुई उनकी गिरफ्तारी चुनाव में वोटरों की सहानुभूति बटोरने का भी काम करेगी. गिरफ्तारी के बाद जेल ले जाते समय एसपी प्रत्याशी नाहिद हसन ने कहा कि "मैं फर्जी मुकदमों पर योगी की तरह रोने वाले नही. डटकर हालातों का सामना करुंगा".

इनपुट: सचिन शर्मा

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT