चुनाव 2021: बंगाल, असम, तमिलनाडु... ग्राउंड जीरो पर क्विंट

हमारे रिपोर्टर्स ग्राउंड रिपोर्ट, एनालिसिस, एक्सप्लेनर, फैक्ट चेक, इंटरव्यू, और भी बहुत कुछ कर रहे हैं

Published

चार राज्य...एक केंद्र शासित प्रदेश... लंबे समय से जिन विधानसभा चुनावों का इंतजार था, आखिरकार वो हो रहे हैं.

चुनावी राज्य तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, केरल, असम और पुडुचेरी में ग्राउंड जीरों पर क्विंट के पत्रकार काम कर रहे हैं, हम कड़ी मेहनत कर रहे हैं, आपके लिए ग्राउंड रिपोर्ट, एनालिसिस, एक्सप्लेनर, फैक्ट चेक, इंटरव्यू, बिहाइंड द सीन, और भी बहुत कुछ कर रहे हैं.

कौन से फैक्टर 2 मई को अपना असर दिखा सकते हैं? नौकरियां, नागरिकता अधिकार, महंगाई, विकास, या कुछ और?

हम आपको बताएंगे कि मतदाता क्या सोचते हैं.

निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता महंगी है. हम जिस तरह की पत्रकारिता करते हैं उसके लिए ग्राउंड पर लगभग 16.2 लाख रुपये खर्च होंगे.

और आप, प्रिय पाठक, ग्राउंड से महत्वपूर्ण खबरें लाने में हमारी मदद कर सकते हैं. क्विंट के सदस्य बनकर हमारी पत्रकारिता को सपोर्ट करें. आपका सपोर्ट हमें आगे बढ़ने में मदद करता है!

चुनाव 2021: बंगाल, असम, तमिलनाडु... ग्राउंड जीरो पर क्विंट
(ग्राफिक्स: क्विंट हिंदी)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!