ADVERTISEMENTREMOVE AD

साहिल कौन है ? मैकेनिक जिसपर दिल्ली में नाबालिग लड़की की हत्या का आरोप लगा है

"साहिल या उसके परिवार को कभी किसी से लड़ते-झगड़ते हुए नहीं देखा"- मकान मालिक

Updated
छोटा
मध्यम
बड़ा

"लव यू डार्क लाइफ, दारू लवर, यारों की यारी सब पर भारी"

फ्रिज और एयर कंडीशनर के मैकेनिक, 20 वर्षीय साहिल के इंस्टाग्राम बायो पर यह लिखा हुआ है. साहिल (Sahil) को दिल्ली के शाहबाद डेयरी क्षेत्र में 16 साल की लड़की को कथित तौर पर छुरा घोंपकर मारने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

बताया जा रहा है कि आरोपी और पीड़िता पिछले दो-तीन साल से एक-दूसरे को जानते हैं.

एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, "शनिवार को भी उनके बीच झगड़ा हुआ था, जिससे उनके रिश्ते और खराब हो गए. हत्या के पीछे यही कारण हो सकता है."

ADVERTISEMENTREMOVE AD

सोमवार, 29 मई को सामने आए एक वायरल वीडियो में, साहिल को नाबालिग लड़की को कई बार चाकू से वार करते और उसे मौत के घाट उतारते हुए देखा जा सकता है. इस दौरान लोग वहां से गुजर रहे थे. पीड़िता के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

साहिल माता-पिता, बहनों के साथ किराए के मकान में रहता था

साहिल के मकान मालिक रामफूल ने पीटीआई को बताया कि साहिल और उसका परिवार पिछले दो साल से शाहबाद डेयरी इलाके में रह रहे हैं और दो कमरों के मकान में रहते हैं.

उनके पिता सरफराज वेल्डर हैं, जबकि उनकी मां किराने की दुकान चलाती हैं. कथित तौर पर उनकी तीन बहनें हैं - उनमें से दो अभी भी स्कूल में हैं और एक निजी फर्म में काम करती है.

"वह एक साधारण लड़का था. वह अपने आप में रहता था, काम पर जाता था, और घर लौट आता. इन दो वर्षों में, मैंने उसे या उसके परिवार को कभी किसी से लड़ते-झगड़ते हुए नहीं देखा. मुझे कभी किसी पड़ोसी से उसके खिलाफ कोई शिकायत नहीं मिली."
साहिल के मकान मालिक रामफूल

उनके पड़ोसियों ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि साहिल एक इंट्रोवर्ट, गुस्सैल लड़का था जो ज्यादातर अपने आप में ही रहता था. अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर, जो पब्लिक है, साहिल नियमित रूप से अपने दोस्तों के साथ पार्टी करते हुए तस्वीरें और रील पोस्ट करता था.

इंस्टाग्राम पर उसकी आखिरी पोस्ट 14 अप्रैल की थी, जहां उसे दूसरे लड़कों के साथ पार्टी करते देखा गया था.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, साहिल का वीडियो वायरल होने के बाद परिवार ने अपना घर खाली कर दिया है. घटना के तुरंत बाद, आरोपी ने कथित तौर पर अपना फोन बंद कर दिया और बुलंदशहर जाने वाली बस में सवार हो गया.

एक अधिकारी ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया, "आरोपी की बुआ ने बाद में उसके पिता को फोन किया और उसे सूचित किया कि वह उसके साथ है. पुलिस पहले से ही पिता और अन्य रिश्तेदारों के संपर्क में थी और उसका पता लगा लिया."

(इंडियन एक्सप्रेस, एएनआई और पीटीआई से इनपुट्स के साथ)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें