कैसे लें Online दुनिया से छुट्टी? क्यों जरूरी है Digital Detox?

कैसे लें Online दुनिया से छुट्टी? क्यों जरूरी है Digital Detox?

वीडियो

वीडियो एडिटर: राहुल शंपुई
कैमरा: शिव कुमार मौर्य

Disclaimer:
क्या आपको ऑनलाइन रहने की लत है? और क्या सुबह उठते ही फोन चेक किए बिना आपकी उतरती नहीं है ? तो ये वीडियो आपके लिए है!

पाए लागि!
Anxiety UK द्वारा किए गए शोध के अनुसार सोशल मीडिया का ज्यादा इस्तेमाल आपके मूड और स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाता है. लेकिन घबराने की बात नहीं, क्योंकि BTech बबुआ है ना. मैं आपको बताऊंगा तरीके Digital Detox यानी डिजिटल दुनिया से छुट्टी लेने के.

Tip No.1

Digital Detox का सबसे पहला कदम है Push Notifications को बंद करना क्योंकि, हर नए Notification के साथ दिमाग में Dopamine रिलीज होता है. Dopamine जिसे हम 'Reward Molecule' के नाम से भी जानते हैं, आपके दिमाग के Pleasure System को कंट्रोल करता है, जिसका नतीजा ये निकलता है कि आपका मन बार-बार ऐप खोल कर चेक करने को करता है और दिमाग पर प्रेशर बनता है हमेशा ऑनलाइन रहने का. तो दिन में एक समय तय कीजिए ऐप चेक करने का और इस्तेमाल करने की समय सीमा भी. Apple और Android Store पर ऐसे ऐप्स हैं जिनकी आप मदद ले सकते हैं. उदाहरण के लिए Usage Time, Screen Time.

Tip No. 2

रात में सोने से पहले मोबाइल पर अलार्म लगाने के बजाय असली अलार्म घड़ी का प्रयोग कीजिये. अपने फोन में पूरी दुनिया को साथ लेकर जब सोएंगे तो सुबह-सुबह पूरी दुनिया आपको परेशान करेगी ही. सोते वक्त फोन को दूर रखिए और सुबह उठते ही फोन ना उठाकर कम से कम एक घंटा आराम कीजिए इससे आपकी Anxiety में कमी आएगी.

Tip No. 3

आपको धीरे-धीरे आदत डालनी पड़ेगी डिजिटल दुनिया से ब्रेक लेने की. पहले दिन 15 मिनट के लिए,अगले दिन 30 मिनट के लिए और धीरे-धीरे पूरे दिन का ब्रेक ले सकते हैं टेक्नोलॉजी से. चाहे तो एक दिन तय कर लीजिए जैसे Twitter free Tuesday या  Facebook free Friday. और ब्रेक लेने से पहले चाहें तो सोशल मीडिया या मेल के द्वारा ऐलान कर दीजिए कि भाई इस दिन से उस दिन तक हम कवरेज एरिया के बाहर रहेंगे.

Tip No. 4

ऐसे काम को प्लान करके रखें जिनकी मदद से आप फोन या लैपटॉप का प्रयोग करने की तलब को काबू कर सकें. जैसे किताब पढ़ना, सैर पर जाना, दोस्तों से मिलना, ट्रिप पर जाना. सोशल स्वास्थ्य पर हुए एक शोध के अनुसार जब हम असल जिंदगी से जुड़ते हैं, तो हमारा Immune System बेहतर होता है, Stress, Anxiety और Depression Level में कमी आती है. एक बात और, ये जो सोशल मीडिया खासकर Instagram पर जो हमेशा 'Hip and Happening' दिखने का फर्जी दबाव हम खुद पर डालते हैं, उस से बचिए. कोशिश कीजिए असल जिंदगी को खुश होकर जीने की. Virtual Life खुद-ब-खुद खुशनुमा हो जाएगी.

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के WhatsApp या Telegram चैनल से)

Follow our वीडियो section for more stories.

वीडियो

    वीडियो