ADVERTISEMENT

देखा-अनदेखा हिंदुस्तान: कथित साध्वी का इकबालिया बयान और कथित संत का गुनाह

Dekha Undekha Hindustan: देखिए इस हफ्ते की देखी-अनदेखी खबरें, जिन्हें देखा तो गया मगर अनदेखा कर दिया गया

ADVERTISEMENT

लखीमपुर फिर शर्मसार, फाईनेंस कंपनी के रिकवरी एजेंटों ने की गिरावट की हदें पार, कबड्डी खिलाड़ी खा रहे टॉयलेट में खाना, साध्वी प्रज्ञा के मुंह से लोगों ने महिला सुरक्षा का सच जाना, और नरसिम्हानंद का वही नफरती रूप जाना पहचाना... अंधियारे में बैठे ऊर्जा मंत्री, इलाहाबाद विश्वविद्यालय ने शिक्षा महंगी कर दी. ये सारी छपी-छिपी कहानियां इसी हिंदुस्तान की हैं जिन्हें देखा तो गया मगर अनदेखा कर दिया गया, तो आइए हम आपको बताते हैं इस हफ्ते के देखे-अनदेखे हिंदुस्तान की खबरें.

ADVERTISEMENT

महिला सुरक्षा के बाद आपको शिक्षा जगत से भी रूबरू करवा देते हैं. यूपी का ही एक विश्वविद्यालय है, इलाहाबाद विश्वविद्यालय, यहां छात्रहित में एक ऐतिहासिक कदम उठाया गया है, जिसके बाद छात्र भैंस लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं , ये ऐसा क्यों कर रहे हैं ये भी बता देते हैं, दरअसल छात्रहित में यूनिवर्सिटी ने फीस में 400% तक की बढ़ोतरी कर दी है. इतना ही नहीं इस फीस बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों पर FIR भी दर्ज की गई है, वहीं कुलपति कह रही हैं  इलाहाबाद विश्वविद्यालय के अस्तित्व को बचाने के लिए फीस बढ़ानी पड़ी है.

यूपी से झारखंड का रुख कर लेते हैं. झारखंड के हजारीबाग का एक दिव्यांग किसान ट्रैक्टर के लिए लोन की किश्त समय पर नहीं चुका पाया. कर्ज वसूलने आए रिकवरी एजेंट पर आरोप है कि उसने किसान की गर्भवती बेटी पर ही गाड़ी चढ़ा दी और मौके पर ही किसान की बेटी की मौत हो गई. इस मामले में फाइनेंस कंपनी के स्थानीय प्रबंधक समेत चार लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है.


झारखंड से एमपी का भी रुख कर लिया जाए, एक सांसद साहिबा हैं. नाम है प्रज्ञा सिंह ठाकुर, व्यापारियों द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुईं और वहां सांसद साहिबा ने कह दिया -"मेरे गोद लिए गांव में ऐसी कुछ बस्तियां हैं, जहां लोगों के पास न शिक्षा का साधन है, न ही उनके माता-पिता के पास कमाई का कोई जरिया है. वे लोग कच्ची शराब बनाने और बेचने का काम करते हैं."

ADVERTISEMENT

प्रज्ञा ठाकुर ने ये ज्ञान दिया और चैनलों ने चलाया...लेकिन किसी ने पूछा नहीं कि अगर ये आपकी ही गोद लिए गए गांव हैं तो वहां लोग खाने और पढ़ने को क्यों तरस रहे हैं. लोग अपनी बच्चियों को बेच रहे हैं तो आप क्या कर रही हैं, आपकी बीजेपी सरकार क्या कर रही है?

साध्वी के बाद एक कथित संत की बतकही देखिए..नरसिम्हानंद ने कहा मदरसों और AMU को बारूद से उड़ा देना चाहिए. इनके अपराधों की अनदेखी करने की आदी पुलिस ने इसे देखा और मामला दर्ज कर लिया है. अब एक्शन में क्या होता है, ये आप देखिएगा जरूर.

ADVERTISEMENT

एक और 'अद्भुत' खबर है यूपी से ...आपने चिराग तले अंधेरा सुना होगा लेकिन क्या अपने बिन बिजली ऊर्जा मंत्री सुना है? दरअसल उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में ऊर्जा मंत्री ए के शर्मा बिजली की जमीनी हकीकत जानने बाराबंकी पहुंचे थे. मंत्री जी पहुंचे कि बत्ती चली गई फिर मंत्री जी ने मोबाइल की रोशनी में बाकी निरीक्षण का काम सम्पन्न किया.

अब बात खिलाड़ियों के साथ हुए खेल की..खेलो इंडिया, जीतो इंडिया और मेडल लाओ इंडिया के नारों के बीच असलियत के बारे में चीख कर बताती ये तस्वीरें देखिए, सहारनपुर में तीन दिवसीय राज्यस्तरीय अंडर-17 गर्ल्स कबड्डी टूर्नामेंट में खिलाड़ियों को टॉयलेट के अंदर खाना परोसा गया. खेल अफसर सस्पेंड हुए तो सफाई दी कि बारिश हो रही थी, कहीं और जगह थी नहीं तो यहीं लंच करा दिया.

जिन्हें चीते सी चाल की जरूरत है उनका ये हाल और चीतों की चाकरी में देश निहाल है. 8 चीते नामीबिया से भारत के कूनो नेशनल पार्क लाये गए. ये खबर आप सबने देखी अब इसके पीछे की एक अनदेखी खबर भी जान लीजिए कूनो के पास एक जिला है, नाम है श्योपुर, इस जिले में 81 हजार 816 बच्चे आंगनबाड़ी केंद्रों में दर्ज हैं. इनमें 27 हजार से ज्यादा कुपोषित हैं. 5 हजार से ज्यादा गंभीर कुपोषित हैं. सरकारी दावा है कि चीता आ जाने से जिलावासियों का जीवन बदल जाएगा मगर जिलावासी आज भी कुपोषण खत्म करने की सरकारी योजनाओं का इंतज़ार कर रहे हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
और देखें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×