ADVERTISEMENT

मोदी जी, किसानों के प्रति है सम्मान तो क्यों होने दिया अपमान?

कृषि कानूनों को वापस लेते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा - मैं किसानों की कद्र करता हूं.

Published
ADVERTISEMENT

कृषि कानूनों को वापस लेते हुए मोदी जी ने कहा - मैं किसानों की कद्र करता हूं. लेकिन उन्हें खालिस्तानी, आतंकवादी औ जेहादी किसने कहा?

कंगना रनौत ने. लेकिन चुप कराने के बजाय उन्हें पद्मश्री दिया गया...

बॉलीवुड और क्रिकेट स्टार्स ने किसान आंदोलन के खिलाफ सरकारी हैशटैग #IndiaAgainstPropaganda को खुशी-खुशी कॉपी पेस्ट किया.

गोदी मीडिया ने साल भर खालिस्तानी साजिश की मनगढ़ंत कहानियां चलाईं.

संबित पात्रा ने उन्हें उग्रवादी, सुशील मोदी और रवि शंकर प्रसाद ने कहा टुकड़े-टुकड़े गैंग, और पीयूष गोयल ने उन्हें माओवादी बुलाया.

एक नेता ने किसानों पर AK-47 रखने का आरोप लगाया, दूसरे ने कहा कि किसानों ने 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाए.

ये जो इंडिया है ना..ये मोदी जी से पूछ रहा है, आप किसानों का आदर करते हैं, तो उन्हें साल भर गालियां क्यों पड़ीं? या फिर हृदय परिवर्तन का कारण यूपी चुनाव है?

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT