‘नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को कोरोनावायरस कहना बंद कीजिए’

‘नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को कोरोनावायरस कहना बंद कीजिए’

वीडियो

वीडियो एडिटर: प्रशांत चौहान

कोरोनावायरस के प्रकोप के साथ ही एक वर्ग के लोगों को लगातार नस्ली हमले का शिकार होना पड़ रहा है. नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को किसी न किसी तरह निशाना बनाया जा रहा है. उन्हें कोरोनावायरस बुलाया जा रहा है.

Loading...

जरा इन इन घटनाओं को ही देखिए

मणिपुर की एक लड़की को सुपरमार्केट में अपशब्द बोले गए. उसे ऐसा एहसास कराने की कोशिश की गई की कोरोनावायरस उसी की वजह से यहां आया है. ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि उसकी शक्ल चीन के लोगों से मिलती-जुलती थी.

दिल्ली के पंडारा रोड में एक रेस्टोरेंट से एक लड़की को इसलिए बाहर जाने के लिए कहा गया क्योंकि बाकि लोगों को उससे परेशानी थी. लोगों को संदेह था कि कोरोनावायरस इसकी वजह से ही आया. वो लड़की शिलॉन्ग की रहने वाली थी.

एक और घटना में मणिपुर की एक लड़की की दिल्ली के विजय नगर में वहां के लोगों से बहस हो गई. उसे कोरोनावायरस भी बुलाया गया.

इस तरह के नस्ली हमले के बाद, ‘गिल्टी’ फेम एक्टर तेनजिंग दलहा ने इस तरह की सोच वालों के लिए कुछ कहा है

मुझे कोरोनावायरस बुलाया गया, सिर्फ इसलिए कि हम थोड़े अलग दिखते हैं. इसका मतलब ये नहीं है कि कोरोनावायरस सिर्फ हमें ही निशाना बनाएगा या हम ही इसे फैलाते हैं. इसका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है. इससे कोई भी संक्रमित हो सकता है. वायरस भेदभाव नहीं करता.
तेनजिंग दलहा, एक्टर

दिल्ली की घटना के बाद गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को निर्देश दिया है कि नॉर्थ-ईस्ट के लोगों पर नस्ली हमला करने वाले लोगों पर उचित कार्रवाई की जाए.

ये भी पढ़ें : टोक्यो ओलंपिक एक साल के लिए टला, चुनौतियां अभी काफी हैं...

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our वीडियो section for more stories.

वीडियो
    Loading...