ADVERTISEMENTREMOVE AD

म्यूचुअल फंड : जानिए,नामचीन पोर्टफोलियो मैनेजर क्यों रहे फ्लॉप? 

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 

Updated
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

म्यूचुअल फंड मार्केट में इन दिनों कई बड़े पोर्टफोलियो मैनेजर निशाने पर हैं. दस नामचीन पोर्टफोलियो मैनेजरों में से नौ ने पहली छमाही में मिड और स्मॉल कैप फंड्स में पैसे गवांए हैं. पहली तिमाही में सिर्फ दो मैनेजरों का प्रदर्शन बढ़िया रहा है. ये मैनेजर 29,400 करोड़ रुपये का एसेट मैनेज कर रहे हैं लेकिन पहली छमाही के दौरान उनकी कमाई -12 फीसदी तक गिर गई.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पहली छमाही में 4 फीसदी संपत्ति गंवा दी

इन मैनेजरों ने पहली छमाही में अपनी 4 फीसदी एसेट गंवा दी. जनवरी से जून के बीच निफ्टी में सिर्फ 1.7 बढ़ोतरी दर्ज की गई लेकिन मिडकैप इंडेक्स 13.5 फीसदी गिर गया था और जबकि स्मॉल कैप इंडेक्स तो 22 फीसदी तक फिसल गया.

कच्चे तेल के दाम में बढ़ोतरी, लगातार बढ़ता व्यापार घाटा और मार्जिन पर कड़े नियम की वजह से स्मॉल और मिडकैप शेयरों में खासी बिकवाली रही. बिगड़ते हालात में फंड मैनेजर मिड और स्मॉल कैप फंड के प्रदर्शन को संभाल नहीं पाए.

अमूमन निवेशक पोर्टफोलियो मैनेजमेंट स्कीमों में एक से तीन साल तक के लिए निवेश करते हैं. ब्लूमबर्गक्विंट ने जिन कंपनियों से बात की तो उनका कहना है कि परफॉर्मेंस स्कीम के आधार पर आंकी जानी चाहिए न कि कुल असेट के आधार पर. लेकिन वे स्कीम के आधार पर प्रदर्शन का ब्योरा नहीं देते. पोर्टफोलियो के मैनजरों के प्रदर्शन के बारे में ज्यादा खुल कर बताया जाना चाहिए. आइए देखते हैं कि इन मैनेजरों का प्रदर्शन कैसा रहा.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

आइए अब एक-एक कर इन मैनेजरों के प्रदर्शन पर नजर दौड़ाते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

निमिश शाह

शाह की ENAM Asset Management 14,000 करोड़ का एसेट मैनेज करती है. इनके पास 8680 करोड़ रुपये के दो कॉरपोरेट एफआईआई हैं. पहली तिमाही में इसने 1 फीसदी संपत्ति गवां दी. जितेन दोशी इन दोनों के फंड मैनेजर हैं.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

प्रतीक अग्रवाल

प्रतीक अग्रवाल असित कोटेचा की ओर से शुरू की गई ASK Investment Managers के चीफ इनवेस्टमेंट ऑफिसर हैं. ये 10,789 करोड़ रुपये का फंड मैनेज करते हैं. अप्रैल-जून में इसने 4.3 फीसदी की कमाई की.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

कैनेथ एंड्रेड

कैनेथ एंड्रेड Old Bridge Capital संभालते हैं, जो 1825 करोड़ रुपये के फंड मैनेज करती है. पहली तिमाही में इसने लगभग छह फीसदी संपत्ति गंवाई है.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

पोरिन्जु वेलियाथ

वेलियाथ की फोर्टफोलियो मैनेजमेंट फर्म इक्विटी इंटेलिजेंस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की अप्रैल-जून तिमाही में कमाई गिर कर -18.2 फीसदी पर पहुंच गई. वेलियाथ ने एक टेक्स्ट मैसेज में कहा कि शेयरों में लंबे समय के लिए होता है. छह महीने के अंदर अंडरपरफॉरमेंस या ओवरपरफॉरमेंस ज्यादा मायने नहीं रखता. निवेशकों को अपनी कमाई को लंबी अवधि में आंकना चाहिए. उनकी कंपनी ने पिछले पांच साल में 45.2 फीसदी की वार्षिक वृद्धि दी है.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

चरणदीपक सिंह और वरुण डागा

चरणदीपक सिंह और डागा की वेल्थ मैनेजमेंट फर्म है GIRIK Wealth Advisors. जिसने पहली तिमाही में 9 फीसदी वेल्थ गंवाई है.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

राजेश कोठारी

कोठारी की कंपनी AlfAccurate Advisors ने पहली तिमाही में -1 फीसदी का रिटर्न दिया है.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

समित वार्तक

वार्तक की कंपनी Sageone Investment Advisors ने 5 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

नीलेश शाह

नीलेश शाह की मनी मैनेजमेंट फर्म Envision Capital ने अप्रैल-जून तिमाही में 7 फीसदी वेल्थ गंवाया है.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 
ADVERTISEMENTREMOVE AD

बसंत माहेश्वरी

माहेश्वरी की पोर्टफोलियो मैनेजमेंट फर्म Basant Maheshwari Wealth Advisers LLP ने 6 फीसदी रिटर्न हासिल किया है. ब्लूमबर्ग क्विंट से को ई-मेल पर दिए जवाब में माहेश्वरी ने कहा कि उनकी फर्म उन कंपनियों पर फोकस करती हैं जो इंडस्ट्री से ज्यादा गति से ग्रोथ कर रही हैं. बाजार में मंदी की आशंका के बावजूद हमने अपने पोर्टफोलियों में कोई स्टॉक नहीं बदला है.

नामचीन फंड मैनेजरों के प्रदर्शन पर उठे सवाल 

इनपुट : ब्लूमबर्गक्विंट

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×