ADVERTISEMENT

ट्रेड वॉर : चीन का फिर हमला,3 अरब डॉलर के अमेरिकी सामानों पर टैरिफ

अमेरिका चीन के खिलाफ टैरिफ लगा रहा है लेकिन चीन भी जवाबी हमले में पीछे नहीं 

Published
ट्रेड वॉर : चीन का फिर हमला,3 अरब डॉलर के अमेरिकी सामानों पर टैरिफ
i

चीन और अमेरिका के बीच ट्रेड वॉर में एक दूसरे के खिलाफ हमले तेज हो गए हैं. अमेरिका की ओर से 50 अरब डॉलर के चीनी सामानों पर टैरिफ के ऐलान के बाद चीन ने ताबड़तोड़ दो हमले किए हैं. 2 अप्रैल को उसने अमेरिका से आने वाले 3 अरब डॉलर के वाइन, फ्रूट, पोर्क और स्टील पाइप समेत कुछ अन्य आइटमों पर टैरिफ लगा दिया और फिर 4 अप्रैल को ही सोयाबीन, केमिकल और विमानों पर भी टैरिफ का ऐलान कर दिया.

ADVERTISEMENT
अमेरिका के लिए अब बड़ी चिंता की बात यह है कि चीन अब कहीं उसके ट्रेजरी बांड खरीदना न रोक दे. चीन और अमेरिका के इस कारोबारी झड़प से पूरी दुनिया के शेयर बाजार पर असर दिखा और इससे भारतीय शेयर बाजारों में भी खासी गिरावट दर्ज की गई.
ADVERTISEMENT

चीन ने कहा था कि वह 128 अमेरिकी आइटमों पर टैरिफ लगाएगा. बुधवार को उसने कहा कि वह सोयाबीन, ऑटोमोबाइल, केमिकल और विमान समेत अमेरिका से आने वाले 50 अरब डॉलर के सामान पर एकस्ट्रा 25 फीसदी लेवी लगाएगा.
अमेरिका ने चीन के 1300 आइटमों पर टैरिफ लगाने की तैयारी कर रखी है. अमेरिकी टैरिफ की जद में ज्यादातर इंडस्ट्रियल मशीनरी और टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट हैं.

ADVERTISEMENT

डब्ल्यूटीओ में चीन के दूत झांग झियांगचेन ने कहा अमेरिका जान बूझ कर डब्ल्यूटीओ के बुनियादी सिद्धांतों पर हमला कर रहा है. टैरिफ लगा कर वह डब्ल्यूटीओ के गैर भेदभाव वाली नीतिय और टैरिफ नैतिकता का उल्लंघन कर रहा है.

कुछ अमेरिकी अर्थशास्त्रियों का कहना है कि चीनी सामानों पर अमेरिकी टैरिफ का मकसद चीन की औद्योगिक महत्वाकांक्षा पर लगाम लगाना है. लेकिन यह भी ध्यान रखेगा कि इस टैरिफ का असर उसके अपने उपभोक्ताओं पर न पड़े.

अमेरिका चीन की आर्थिक और सैनिक महत्वाकांक्षा दोनों पर लगाम लगाना चाहता है
(फोटो: IANS)
ADVERTISEMENT

चीन मेड ऑफ चाइना पॉलिसी 2025 के तहत दस ऐसे सेक्टरों पर जोर देगा जो चीन को एक एडवांस मैन्यूफैक्चरिंग ताकत में तब्दील कर दे. चीन इनफॉरेमेशन टेक्नोलॉजी से ले कर रोबोटिक्स और एयरोस्पेस इंडस्ट्री की बड़ी ताकत के तौर पर पर उतरना चाहता है. आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस के क्षेत्र में चीन बड़ा निवेश कर रहा है.

ये भी पढ़ें - डियर मिस्‍टर ट्रंप, यहां-वहां नहीं, सही निशाने पर चलाएं ट्रेड गोली

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Speaking truth to power requires allies like you.
Q-इनसाइडर बनें
450

500 10% off

1500

1800 16% off

4000

5000 20% off

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
Check Insider Benefits
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×