ADVERTISEMENT

Paytm IPO Listing:डिस्काउंट में मिल रहे पेटीएम के शेयर, इश्यू प्राइस से 10% नीचे

पेटीएम की पेरेंट कंपनी one97 कम्युनिकेशन के शेयर इश्यू प्राइस ₹2150 के मुकाबले ₹1955 पर लिस्ट हुए.

Updated
Paytm IPO Listing:डिस्काउंट में मिल रहे पेटीएम के शेयर, इश्यू प्राइस से 10% नीचे
i

पेटीएम (Paytm) की पेरेंट कंपनी one97 कम्युनिकेशन ने शेयर बाजार में कमजोर शुरुआत की. कंपनी के शेयर इश्यू प्राइस ₹2150 के मुकाबले ₹1955 पर लिस्ट हुए, मतलब करीब 10% डिस्काउंट पर.

आपको बता दें Paytm का आईपीओ भारत का अब तक का सबसे बड़ा ipo था, कंपनी ने इस इश्यू से ₹18,300 करोड़ रुपया जुटाया.

ADVERTISEMENT

लिस्ट होने के बाद और गिरा शेयर

पेटीएम के शेयर में और गिरावट देखने को मिल रही है. कंपनी के शेयर फिलहाल दोपहर 12 बजे इश्यू प्राइस से करीब 22% नीचे ₹1660 पर ट्रेड कर रहा है.

आखिरी दिन पूरी तरह सब्सक्राइब हुआ था IPO

इससे पहले Paytm का IPO 8 नवंबर को खुला और 10 नवंबर को बंद हुआ था. पब्लिक इश्यू को निवेशकों से मिला-जुला रिस्पांस मिला. इश्यू कुल 1.89 गुणा सब्सक्राइब हुआ था. नेट क्वालिफाइड इंस्टिट्यूशनल इन्वेस्टर ने अपने पोर्शन को 2.79 गुणा सब्सक्राइब किया था. वहीं, रिटेल इन्वेस्टर के लिए रखा गया रिजर्व हिस्सा भी 1.66 गुणा सब्सक्राइब हुआ था.

एक्सपर्ट की क्या राय?

एक्सपर्ट paytm के महंगे वैल्यूएशन को शेयर प्राइस में गिरावट की बड़ी वजह बता रहे हैं.

"कंपनी घाटे में चल रही है और निकट भविष्य में मुनाफे में आने के कोई संकेत नहीं है. अलॉटमेंट प्राप्त करने वाले अग्रेसिव निवेशक लंबी अवधि के दृष्टिकोण के साथ स्टॉक रख सकते हैं. हालांकि जिन निवेशकों ने लिस्टिंग लाभ के लिए आवेदन किया है, वे शेयर प्राइस में किसी भी तरीके के बाउंस बैक पर बाहर निकल सकते हैं. नए निवेशकों को अन्य अवसरों की तलाश करने की सलाह दें रहे हैं जो अन्य नई एज कंपनियां पेटीएम की तुलना में काफी बेहतर प्रदर्शन कर सकती हैं. हमें लगता है कि ब्रांड के कारण कंपनी ने उच्च मूल्यांकन की मांग की और शॉर्टटर्म में इसमें करेक्शन देखने को मिल सकता है."

ADVERTISEMENT

पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस 

पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस की कमजोर शुरुआत के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) पर कंपनी के शेयरों में 25 फीसदी से अधिक की गिरावट दर्ज की गई.

पेटीएम की सुस्त लिस्टिंग ने कई विष्लेशकों को हैरान नहीं किया क्योंकि मेगा आईपीओ को हाल ही में कई सफल लिस्टिंग की तुलना में निवेशकों से कमजोर प्रतिक्रिया मिली थी.

पेटीएम के आईपीओ को सिर्फ 1.95 गुना ओवरसब्सक्राइब किया गया था, जो ज़ोमैटो और नायका जैसे कंपनियों के हालिया उत्पन्न ब्याज की तुलना में बहुत कम है.

भावुक हुए संस्थापक विजय शेखर शर्मा

जब कंपनी ने भारत की सबसे बड़ी आईपीओ को पूरा किया तो संस्थापक विजय शेखर शर्मा बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में अपने संबोधन के दौरान भावुक हो गए,

विजुअल्स में उन्हें रूमाल से आँसू पोंछते हुए देखा गया था. इंजीनियरिंग ग्रेजुएट विजय शेखर शर्मा ने 2010 में मोबाइल रिचार्ज के लिए एक प्लेटफॉर्म के रूप में पेटीएम की शुरुआत की थी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×