ADVERTISEMENTREMOVE AD

अरशद वारसी पर शेयर बाजार में बैन क्यों? आप भी रहें सावधान

Arshad Warsi:पंप एंड डंप स्कीम से साधना ब्रॉडकास्ट और शार्पलाइन से जुड़े लोगों को कुल 54 करोड़ रुपये का फायदा हुआ है

Published
छोटा
मध्यम
बड़ा

शेयर बाजार (Share Market), पंप एंड डंप (Pump And Dump), यूट्यूब स्कैम (Youtube Scam), आरशद वारसी (Arshad Warsi), उनकी पत्नी और साधना ब्रॉडकास्ट (Sadhana Broadcast), ये सब सुर्खियों में हैं. दरअसल सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने अरशद वारसी और उनकी पत्नी समेत 31 लोगों को शेयर बाजार से बैन कर दिया है. शेयर मार्केट में हो रही गतिविधियों पर नजर रखने वाले सेबी ने बैन इसलिए लगाया क्योंकि कुछ यूट्यूबर्स समेत इन 31 लोगों पर कुछ स्टॉक्स को मैनिपुलेट करने यानी छेड़छाड़ करने और उससे गलत तरीके से भारी कमाई करने का आरोप है. इस पूरे मामले के बाद निवेशकों को क्यों सावधान होने की जरूरत है, ये हम आपको इस वीडियो में बताएंगे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पंप एंड डंप से मतलब है कि पहले आपने किसी एक स्टॉक में पैसा लगाया फिर उस स्टॉक की गलत तरीके से खूब बड़ाई की जिससे की उस स्टॉक की डिमांड बढ़ गई, इससे कीमतें भी बढ़ीं और फिर प्रॉफिट बुक कर उसे डंप कर दिया जिससे कि उसके भाव गिर गए और निवेशकों को हो गया नुकसान. अरशद वारसी के केस में क्या हुआ?

साधना चैनल के बारे में आप ने सुना होगा, दरअसल साधना ब्रॉडकास्ट के प्रमोटर्स पर आरोप है कि चुनिंदा यूट्यूबर्स की मदद से निवेशकों को साधना ब्रॉडकास्ट के स्टॉक्स खरीदने की सलाह दी वो भी गलत तरीके से. इन यूट्यूबर्स ने फर्जी जानकारियां दी कि साधना टीवी में अडानी समूह पैसा लगाने वाला है, अमेरिका की एक बड़ी कंपनी 1100 करोड़ का निवेश करेगी और साधना टीवी फिल्म निर्माण भी करेगी. ऐसी कई फर्जी जानकारियां फैलाई गई. अब जाहिर है कि निवेशक यही सोचेंगे कि इस सस्ते शेयर में पैसा लगाया जाए...जैसे ही निवेशकों ने पैसा लगाना शुरू किया इसकी डिमांड बढ़ी और कीमत भी यानी शेयर की कीमत को पंप किया गया. ये सब 2022 से चल रहा था.

आरोप है कि जब इन शेयर्स की कीमत बढ़ी तो साधना के प्रमोटर्स ने अपना प्रॉफिट बुक करके शेयर्स बेच दिए. जब बड़े स्तर पर बिकवाली हुई तो शेयर की कीमत धड़ाम हो गई, आम निवेशकों का पैसा डूब गया.

आप सोच रहे होंगे कि इस सबमें अरशद वारसी का क्या रोल था? अरशद वारसी और उनकी पत्नी मारिया के पास भी पहले से ही साधना ब्रॉडकास्ट के शेयर्स थे. आरोप है कि इस कांड में अरशद वारसी की भी साझेदारी थी. इससे अरशद ने 29 लाख रुपये से ज्यादा और उनकी पत्नी ने साढ़े 37 लाख रुपये से ज्यादा की कमाई की है. अरशद वारसी ने इस मामले में सफाई देते हुए ट्वीट किया कि, ''आप जो भी न्यूज में पढ़ रहे हैं, उन सब बातों पर यकीन मत करिए. स्टॉक्स के बारे में मेरी और मारिया की जानकारी जीरो है. हमने भी लोगों के सुझाव पर शारदा में इनवेस्ट किया था. दूसरे लोगों की तरह इसमें हमारे भी मेहनत से कमाए सारे पैसे चले गए.'' इस पंप एंड डंप स्कीम में कुल 42 करोड़ की कमाई हुई है. साधना की तरह ही शार्पलाइन के स्टॉक के साथ भी ऐसी ही छेड़छाड़ की गई और कुल 12 करोड़ की कमाई की. सेबी ने पाया की दोनों में धांधली करने वाले लोग कॉमन हैं. इसमें शामिल यूट्यूबर्स का नाम है मनीष मिश्रा जो द एडवाइसर, मनीवाइस, मिडकैप कॉल्स और प्रॉफिट यात्रा के नाम से यूट्यूब चैनल चलाता है.

खैर धांधली तो हो गई, पैसे भी डूब गए लेकिन इससे आपको क्या सीख मिलती है? सेबी हमेशा कहता है कि सर्टिफाइड इंवेस्टमेंट एडवाइजर से ही सलाह लें, एडवाइजर अगर आपको किसी स्टॉक में पैसा लगाने की सलाह दे रहा है तो ये भी जानें कि क्या उसका भी इसमें कोई हित है यानी क्या उसने भी उस स्टॉक में पैसा लगाया है. यूट्यूब चैनल से केवल खुद को एजुकेट करने का काम करें बाकी निवेश के लिए रिसर्च खुद करें या एक्सपर्ट के पास जाए. टेलीग्राम चैनल्स से दूरी बनाएं, पहले बिटकॉइन को लेकर खूब टेलीग्राम  पर सलाह दी जाती थी अब क्रिप्टो के चाहने वाले कम हैं तो टेलीग्राम  पर स्टॉक्स को लेकर ज्ञान बंटने लगा है. सीधे शेयर बाजार में पैसा लगाने से डरते हैं या बचना चाहते हैं तो एसआईपी/म्युचुअल फंड से शुरू करें. उसके लिए भी पहले एक्सपर्ट से बात करें. सेबी जल्द ही यूट्यूब पर इंवेस्टमेंट से जुड़ी सलाह देने वालों को लेकर कड़े नियम लाने की तैयारी में हैं. इसपर भी हमने डीटेल में वीडियो बनाया है आप उसे भी जरूर देखें.  लिंक डेस्क्रिप्शन में है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×