बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ पर लगाई रोक

मंगलवार को कंगना के दफ्तर के बाहर चिपकाया गया था नोटिस

Updated
एंटरटेनमेंट
2 min read
बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ पर लगाई रोक

बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना रनौत Kangana Ranaut) को बड़ी राहत दी है. कोर्ट ने बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी है. बता दें कि बुधवार सुबह-सुबह बीएमसी ने कंगना के दफ्तर पर बड़ी कार्रवाई करते हुए बुलडोजर चलाया और उनके ऑफिस के कुछ हिस्सों में तोड़फोड़ की. बीएमसी के खिलाफ कंगना के वकील ने याचिका दायर की थी, जिसमें कंगना को राहत मिली है.

इससे पहले मंगलवार को बीएमसी ने ऑफिस के बाहर एक नोटिस चिपकाया, जिसमें बीएमसी ने उनके कार्यालय में चल रहे निर्माण में कई उल्लंघनों का जिक्र किया था, नोटिस में यह भी चेतावनी दी गई कि अभिनेत्री को जुर्माने के अलावा, न्यूनतम एक महीने की कैद और एक साल की जेल की सजा तक हो सकती है.

माना जा रहा है कि यह कदम सोशल मीडिया पर कंगना और महाराष्ट्र के कुछ राजनेताओं के बीच चल रहे जुबानी जंग के बाद सामने अया है. बीएमसी ने जवाब देने के लिए कंगना को 24 घंटे का वक्त दिया था, जिसके बाद 9 सितंबर की सुबह बीएमसी की टीम बुलडोजर लेकर दफ्तर के बाहर पहुंच गई.

बता दें कि कोरोना के चलते लॉकडाउन की वजह से कंगना मनाली में थीं, और कई महीनों से वो मनाली में रह रही थीं. लेकिन अब तमाम विवादों के बीच वो मुंबई पहुंच रही हैं, कंगना ने ट्टीट करके कहा भी है कि मैं किसी से डरने वाली नहीं हूं.

बता दें कि बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद कंगना लगातार सवाल उठा रही हैं, शिवसेना नेता संजय राउत और कंगना के बीच जुबानी जंग भी चली. कंगना को मुंबई वापस ना लौटने की धमकी भी दी गई.जिसके बाद कंगना ने भी कहा कि वो मंबई में जाकर दिखाएंगी.केंद्र सरकार की तरफ से उन्हें वाई लेवल की सुरक्षा भी दी गई है.

ये भी पढ़ें- कंगना के ऑफिस में BMC की तोड़फोड़,एक्ट्रेस बोलीं-लोकतंत्र की हत्या

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!