ADVERTISEMENTREMOVE AD

मुंबई ड्रग्स केस: NCB के समन पर तीसरी बार पेश नहीं हुईं अनन्या पांडे, बताई वजह

अनन्या पांडे ने पेशी के लिए एनसीबी से पूछताछ के लिए दूसरी तारीख मांगी है

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

मुंबई ड्रग्स केस (Mumbai Drugs Case) में बॉलीवुड एक्ट्रेस अनन्या पांडे (Ananya Pandey) को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने सोमवार 25 अक्टूबर को पूछताछ के लिए बुलाया था. लेकिन पांडे कुछ व्यक्तिगत वजहों से एनसीबी के सामने पेश नहीं हुईं.

मामले में चल रही जांच के संबंध में, उन्हें तीसरे दौर की पूछताछ के लिए पेश होना था. एक्ट्रेस ने एजेंसी से किसी अन्य तारीख की मांग की. उन्होंने पूछताछ में न शामिल हो पाने की कुछ व्यक्तिगत वजहें बताईं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
अनन्या की तरफ से की गई अपील के बाद एनसीबी ने उसे स्वीकार कर लिया है. अब एजेंसी नए समन के लिए अन्य तारीख तय करेगी.

इससे पहले एनसीबी ने अनन्या से शुक्रवार 22 अक्टूबर को चार घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी.

पूछताछ के दौरान, एक्ट्रेस ने ड्रग्स को कंज्यूम और सप्लाई करने वाले आरोपों से इनकार किया. रिपोर्ट्स के मुताबिक अनन्या ने कहा कि मैंने न तो ड्रग्स का सेवन किया और न ही आर्यन को ड्रग्स की सप्लाई की.

इस मामले में आर्यन खान मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद हैं. आर्यन खान के साथ ही अनन्या की वॉट्सऐप चैट एनसीबी के हाथ लगी थी, जिसके बाद पूछताछ जारी है.

एएनआई की रिपोर्ट्स के मुताबिक आर्यन खान के मोबाइल फोन से बरामद हुए चैट से पता चलता है कि 2018-19 में, अनन्या पांडे ने ड्रग्स सप्लाई करने में आर्यन की तीन बार मदद की.

मामले की जांच कर रही एनसीबी पर भी सवाल

बता दें कि क्रूज पार्टी मामले से संबंधित नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की जांच और छापे पर फिर से सवाल उठने लगे हैं. शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के इस मामले में एक गवाह ने एजेंसी के वरिष्ठ अधिकारी समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) और कथित प्राइवेट इन्वेस्टिगेटर केपी गोसावी (KP Gosavi) के बीच करोड़ों रुपये के लेन-देन और सांठ-गांठ के बारे में चौंकाने वाले दावे किए हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
गवाह का कहना है कि एनसीबी ने उससे पंचनामे में सादे पेपर पर साइन कराया था.

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए समीर वानखेड़े ने किसी भी गलत काम के आरोप से इनकार किया है. उन्होंने कहा कि वह इस पर “एक उपयुक्त जवाब” देंगे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×