ADVERTISEMENTREMOVE AD

लता मंगेशकर अभी भी ICU में, डॉक्टर ने कहा- "सुधार के संकेत दिख रहे हैं"

लता मंगेशकर को 8 जनवरी के दिन दक्षिणी मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

पिछले कुछ दिनों से हॉस्पिटल में भर्ती मशहूर सिंगर लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) की हालत में सुधार आया है, लेकिन वो अभी भी आईसीयू (ICU) में हैं. शनिवार, 22 जनवरी को उनके डॉक्टर ने कहा कि लता मंगेशकर को कोरोना वायरस के हल्के लक्षण हैं और उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

लता मंगेशकर को 8 जनवरी के दिन दक्षिणी मुंबई के ब्रीच कैंडी (Breach Candy) हॉस्पिटल में इलाज के लिए आईसीयू यूनिट में एडमिट करवाया गया था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक लता मंगेशकर के हेल्थ अपडेट के बारे में बात करते हुए हॉस्पिटल की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ.प्रतीत समदानी ने बताया कि उनमें सुधार के लक्षण दिख रहे हैं, लेकिन यह कहना मुश्किल है कि वह कितने दिनों तक हॉस्पिटल में रहेंगी.

फैमिली की करीबी दोस्त अनुषा श्रीनिवासन अय्यर ने भी कहा कि लता मंगेशकर के हेल्थ में सुधार हो रहा है.
लता दीदी के हेल्थ में सुधार हो रहा है और डॉ.प्रतीत समदानी के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम के द्वारा आईसीयू में उनका इलाज किया जा रहा है. हम उनके जल्द स्वस्थ होने और घर वापस आने के लिए प्रार्थना कर रहे हैं.
अनुषा श्रीनिवासन अय्यर

दरअसल शुक्रवार, 22 जनवरी को सोशल मीडिया पर अफवाहें फैलने लगी थीं कि मंगेशकर की तबीयत खराब हो गई है. अय्यर ने अफवाहों को खारिज करते हुए कहा कि मैं अपील करना चाहती हूं कि कृपया किसी भी झूठी खबर को हवा न दें.

उन्होंने कहा कि आइए हम लता दीदी के जल्द स्वस्थ होने और घर लौटने की प्रार्थना करें. भारतीय सिनेमा के महान गायकों में से एक के रूप में उन्होंने 1942 के दौरान 13 साल की उम्र में अपने करियर की शुरुआत की थी और अब तक कई भारतीय भाषाओं में उन्होंने करीब 30,000 से अधिक गाने गाए हैं.

70 साल के अपने करियर में उन्होंने, अजीब दास्तां है ये, प्यार किया तो डरना क्या, नीला आसमां सो गया और तेरे लिए जैसे कई यादगार गीत गाए.

भारत की कोकिला के रूप में पहचानी जाने वाली सिंगर लता मंगेशकर को अब तक पद्म भूषण, पद्म विभूषण और दादा साहब फाल्के पुरस्कार और कई अन्य राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों पुरस्कारों और सम्मानों से नवाजा गया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×