ADVERTISEMENTREMOVE AD

सोनू सूद पर फॉरेन कंट्रीब्यूशन रेगुलेशन एक्ट के उल्लंघन और टैक्स चोरी के आरोप

आईटी अधिकारियों को यह भी शक है कि सोनू सूद ने बड़ी मात्रा में विदेशी पैसा दूसरे कामों के लिए खर्च किया.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) आजकल इनकम टैक्स विभाग (IT Department) के रडार पर हैं. कोरोना महामारी के दौरान शानदार काम करने वाले सोनू सूद के घर और बाकी जगह इनकम टैक्स की रेड हुई, जिसे सर्वे कहा गया.

आईटी अधिकारी कथित तौर उनसे जुड़े 30 से ज्यादा जगहों की तलाशी कर रहे हैं. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार शुरुआती जांच में पता चला है कि सोनू सूद ने विदेशी योगदान रेगुलेशन एक्ट (FCRA) का उल्लंघन किया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
इस बीच एक गौर करने वाली बात ये भी है कि लगातार ट्विटर पर एक्टिव रहने वाले सोनू सूद पिछले कुछ दिनों से कोई ट्वीट नहीं कर रहे हैं. जिस ट्विटर के जरिए उन्होंने कोरोना महामारी के दौरान हजारों लोगों की मदद की, उस पर 14 सितंबर के बाद एक भी नया ट्वीट नहीं है.

आईटी विभाग ने सोनू सूद की क्या गलती पकड़ी?

इनकम टैक्स विभाग सोनू सूद और उनसे जुड़े कई जगहों की तलाश कर रहा है और ये तलाशी अभी भी जारी है. खबरों के अनुसार आईटी अधिकारियों को कुछ ऐसे दस्तावेज हाथ लगे हैं जिनसे पता चलता है कि सोनू सूद ने विदेशी पैसा प्राप्त करने के एसपीआरए नियमों का उल्लंघन किया था.

आईटी अधिकारियों को यह भी शक है कि सोनू सूद ने बड़ी मात्रा में विदेशी पैसा दूसरे कामों के लिए खर्च किया.

सोनू सूद पर टैक्स चोरी के आरोप

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार आईटी अधिकारियों को भारी मात्रा में सोनू सूद की इनकम टैक्स चोरी के बारे में पता चला है. एक सूत्र ने एजेंसी को बताया कि "टैक्स चोरी सोनू सूद के पर्सनल भुगतानों से संबंधित है. सूद चैरिटी फाउंडेशन के खातों की भी जांच की जा रही है. आईटी अधिकारियों को बेहिसाब रसीदें मिली हैं."

एएनआई की खबर में कहा गया है कि "फर्जी कर्ज और फर्जी बिलिंग जैसे डॉक्यूमेंट पाए गए हैं और अब वे आईटी विभाग के पास में हैं." आगे बताया गया कि तलाशी के दौरान सर्कुलर ट्रेडिंग के सबूत भी मिले हैं.

"दस्तावेजों की सीरीज अब इनकम टैक्स अधिकारियों के कब्जे में है और इनसे पता चलता है कि पैसा अलग अलग खातों के जरिये भेजा गया है और इससे सोनू सूद को लाभ हुआ है."

ADVERTISEMENTREMOVE AD

आरोप ये भी है कि उन्होंने झूठे दावे के खर्च से टैक्स चोरी की है. आईटी अधिकारियों के उनसे जुड़े जगहों की तलाशी का आज तीसरा दिन है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×