ADVERTISEMENTREMOVE AD

'कार्तिक आर्यन से बहुत उम्मीद थी'- Shehzada देखने के बाद क्या लिख रही जनता?

Shehzada Film Reaction: कार्तिक आर्यन की फिल्म 'शहजादा' ने शुक्रवार 17 फरवरी को थिएटर्स पर दी दस्तक.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan ) की फिल्म 'शहजादा' (Shehzada) शुक्रवार 17 फरवरी को सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है. कार्तिक आर्यन की इस फिल्म में एक्ट्रेस कृति सेनन ((Kriti Sanon) और दिग्गज अभिनेता परेश रावलमुख्य भूमिकाओं में हैं. फिल्म रिलीज होते ही दर्शकों ने ट्विटर पर 'शहजादा' को लेकर रिएक्शन देना शुरू कर दिया है. कई यूजर्स ने इसे इंटरटेनिंग फिल्म बताया है. तो कइयों ने अल्लूअर्जुन की 'अला बैंकुठपुरमलो से तुलना करने लगे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
बता दें कि फिल्म 'शहजादा' (Shehzada) अल्‍लू अर्जुन की सुपरहिट तेलुगू फिल्म 'अला बैंकुठपुरमलो' की रीमेक है. हिंदी में इस फिल्‍म को रोहित धवन ने डायरेक्‍ट किया है. वहीं ये फिल्‍म पहले वैलेंटाइंस वीकेंड में 10 फरवरी को रिलीज होनी थी. लेकिन 'पठान' की बंपर कमाई को देखते हुए मेकर्स ने 'शहजादा' को एक हफ्ते के लिए पोस्‍टपोन कर दिया. हालांकि अब ये फिल्म 17 फरवरी को सिनेमाघरों में दस्तक दे चुकी है.

एक यूजर ने ट्वीट कर लिखा है कि, फिल्म शहजादा ने बहुत ज्यादा निराश किया. सही में सबको निराश किया...कार्तिक आर्यन से बहुत उम्मीद थी.

एक यूजर ने लिखा- शहजादा डिजास्टर है. कभी कोई मेल नहीं खा सकता है अल्लूअर्जुन की तुलना में.

एक यूजर ने लिखा-शहजादा ड्रामा-एक्शन-कॉमेडी-रोमांस-एंटरटेनमेंट का बेहतरीन मिश्रण है.

चेतन शर्मा नाम के एक यूजर ने लिखा- कार्तिक आर्यन के सबसे बड़े दुश्मन वो लोग हैं जो शहजादा की झूठी तारीफ़ कर रहे हैं.

एक यूजर ने लिखा- इतना बड़ा फ्लॉप कि समीक्षकों ने भी शहजादा को रेटिंग देने से इनकार कर दिया.

एक यूजर ने लिखा- दीरा सिटी सेंटर दुबई में शहजादा देखी. इस फिल्म ने निराश किया. कॉमेडी खराब है, स्क्रीनप्ले खराब है, सीन भयानक हैं, इमोशन सीन इमोशनलेस हैं. गानों को सीन में डाला जाता है और इसका कोई मतलब नहीं बनता है. अपेक्षा के अनुरूप नहीं है. 5 में से 2 रेटिंग. रीमेक काम नहीं करता.

श्रेयस एस जेट्टी नाम के एक यूजर ने लिखा- पैसा वसूल मूवी. उनकी स्क्रीन की मौजूदगी. कार्तिक आर्यन शानदार...शहजादा बहुत अच्छा लगा.

एक यूजर ने लिखा- मैं नहीं जानती कि लोग इसकी तुलना ओरिजनल से क्यों कर रहे हैं! हां ये एक रीमेक है लेकिन फिर भी इसमें हिंदी एलिमेंट्स जोड़े गए हैं! हिंदी वाले हिस्से की आलोचना करना ठीक है लेकिन तुलना करना ठीक नहीं!

एक यूजर ने लिखा-आर्यन कार्तिक की फिल्म 'शहजादा' मसाला की सही डोज के साथ एक शुद्ध पारिवारिक एंटरटेनर है...!!

शहजादा का रिव्यु पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×