ADVERTISEMENT

Petrol-Diesel कहां सबसे सस्ता-कहां महंगा, कौन कितना ले रहा VAT? हर राज्य के दाम

मोदी के सत्ता में आने के बाद से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 72 फीसदी तक का इजाफा हो चुका है

Updated
कुंजी
8 min read
Petrol-Diesel कहां सबसे सस्ता-कहां महंगा, कौन कितना ले रहा VAT? हर राज्य के दाम
i

पिछले कुछ समय से लगातार पेट्रोल-डीजल (Petrol Diesel) की बढ़ती कीमतों से देश की आम जनता परेशान है. वहीं पीएम मोदी ने (PM Modi) ने पेट्रोल-डीजल पर वैट (VAT) को लेकर राज्य सरकारों को घेरा है. ऐसे में आइए देशभर के राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों के पेट्रोल-डीजल का भाव जानने के साथ-साथ टैक्स के पूरे गणित को समझते हैं.

ADVERTISEMENT

पहले जानिए आज के भाव

मई 2014 से अब तक यानी मोदी सरकार में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 72 फीसदी तक इजाफा हो चुका है. पेट्रोल और डीजल के नीचे दिए गए दाम रुपये प्रति लीटर हैं. ये औसत दाम हैं, राज्य के अलग-अलग जिलों व शहरों में दाम ऊपर-नीचे हो सकते हैं.

Petrol-Diesel कहां सबसे सस्ता-कहां महंगा, कौन कितना ले रहा VAT? हर राज्य के दाम

अंडमान और निकोबार

पेट्रोल : 91.45

डीजल : 85.83

आंध्रप्रदेश

पेट्रोल : 121.33

डीजल : 106.81

अरुणाचल प्रदेश

पेट्रोल : 104.13

डीजल : 91.18

असम

पेट्रोल : 105.99

डीजल : 91.71

बिहार

पेट्रोल : 118.22

डीजल : 102.91

चंडीगढ़

पेट्रोल : 104.74

डीजल : 90.83

छत्तीसगढ़

पेट्रोल : 112.60

डीजल : 103.98

दादर और नगर हवेली

पेट्रोल : 102.79

डीजल : 96.97

दमन और दीव

पेट्रोल : 102.60

डीजल : 96.78

दिल्ली

पेट्रोल : 105.41

डीजल : 96.67

गोवा

पेट्रोल : 106.61

डीजल : 97.49

गुजरात

पेट्रोल : 105.08

डीजल : 99.43

हरियाणा

पेट्रोल : 105.88

डीजल : 97.10

हिमाचल प्रदेश

पेट्रोल : 104.26

डीजल : 88.38

जम्मू और कश्मीर

पेट्रोल : 109.70

डीजल : 93.01

झारखंड

पेट्रोल : 108.96

डीजल : 102.25

कर्नाटक

पेट्रोल : 111.59

डीजल : 95.26

केरल

पेट्रोल : 116.04

डीजल : 102.87

मध्यप्रदेश

पेट्रोल : 119.52

डीजल : 102.44

महाराष्ट्र

पेट्रोल : 120.69

डीजल : 103.38

मणिपुर

पेट्रोल : 110.31

डीजल : 94.02

मेघालय

पेट्रोल : 103.55

डीजल : 89.75

मिजोरम

पेट्रोल : 104.18

डीजल : 88.54

नागालैंड

पेट्रोल : 107.46

डीजल : 93.73

ओड़िशा

पेट्रोल : 113.92

डीजल : 103.63

पुडुचेरी

पेट्रोल : 104.42

डीजल : 92.84

पंजाब

पेट्रोल : 105.28

डीजल : 93.93

राजस्थान

पेट्रोल : 117.90

डीजल : 100.80

सिक्किम

पेट्रोल : 111.40

डीजल : 96.45

तमिलनाडु

पेट्रोल : 112.09

डीजल : 102.19

तेलंगाना

पेट्रोल : 121.56

डीजल : 107.42

त्रिपुरा

पेट्रोल : 107.46

डीजल : 94.49

उत्तर प्रदेश

पेट्रोल : 105.31

डीजल : 96.87

उत्तराखंड

पेट्रोल : 103.99

डीजल : 97.56

पश्चिम बंगाल

पेट्रोल :116.32

डीजल : 100.94

अलग-अलग राज्यों में दाम अलग-अलग क्यों?

अलग-अलग टैक्स की वजह से दाम अलग-अलग होते हैं. हम जिस भाव पर पेट्रोल-डीजल खरीदते हैं, उसमें से 46 फीसदी तक टैक्स होता है. मोदी सरकार में पेट्रोल-डीजल पर टैक्स कई गुना बढ़ा है. केंद्रीय टैक्स एक्साइज ड्यूटी के अलावा राज्य सरकार भी इस पर वैट के रूप में टैक्स वसूलती हैं जिससे अलग-अलग राज्यों में पेट्रोल-डीजल के दाम में अंतर दिखता है.

पेट्रोलियम प्लानिंग एंड एनालिसिस सेल के आंकड़ों के मुताबिक लक्षद्वीप में पेट्रोल और डीजल पर कोई स्टेट टैक्स नहीं है, जबकि अंडमान निकोबार द्वीप समूह में 1-1 फीसदी स्टेट टैक्स/वैट लिया जाता है. देश में पेट्रोल पर सबसे अधिक 35.20 फीसदी वैट तेलंगाना में लिया जाता है. डीजल पर भी सबसे अधिक 27 फीसदी वैट तेलंगाना में ही लगता है. महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, राजस्थान, मध्य प्रदेश, केरल और बिहार में पेट्रोल की रिटेल कीमत में करीब आधी रकम टैक्स की होती है. महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में तो स्टेट टैक्स (वैट, सेस इत्यादि) केंद्रीय एक्साइज से भी अधिक हैं.

मोदी सरकार में एक्साइज ड्यूटी कितनी बढ़ी?

फाइनेंसियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार पिछले आठ वर्षों में डीजल पर ड्यूटी 531% यानी 18.34 रुपये प्रति लीटर और पेट्रोल पर 203 % यानी 18.70 रुपये बढ़ी है. 2014 में जब केंद्र में पहली बार मोदी सरकार आयी थी तब उस समय पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 9.20 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 3.46 रुपये प्रति लीटर थी.

मोदी सरकार के पहले टर्म की शुरूआत से अबतक लेटेस्ट ड्यूटी की बात करें तो पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 203 फीसदी से ज्यादा और डीजल पर करीब 530 फीसदी बढ़ी है.

एक रिपोर्ट के मुताबिक पेट्रोल और डीजल की एक्साइज ड्यूटी में हर एक रुपये की बढ़ोतरी से केंद्र सरकार के खजाने में 13,000-14,000 करोड़ रुपये सालाना की बढ़ोतरी होती है.

100 रुपये के पेट्रोल पर आप कितना टैक्स देते हैं?

पेट्रोलियम प्लानिंग एंड एनालिसिस सेल के मुताबिक दिल्ली में पेट्रोल के लिए चुकाए जाने वाली कीमत की बात करें तो प्रति 100 रुपये पर ग्राहकों को 45.3 रुपये टैक्स देना होता है. इसमें केंद्र सरकार को चुकाए जाने वाला टैक्स करीब 29 रुपये और राज्य सरकार को चुकाए जाने वाला टैक्स करीब 16.30 रुपये शामिल है. वहीं महाराष्ट्र में प्रति 100 रुपये पर सरकारों को 52.5 रुपये टैक्स, आंध्र प्रदेश में 52.4 रुपये, तेलंगाना में 51.6 रुपये, राजस्थान में 50.8 रुपये, मध्य प्रदेश में 50.6 रुपये, केरल में 50.2 रुपये और बिहार में 50 रुपये के करीब टैक्स देना पड़ता है. यानी आधे से भी ज्यादा कीमत आप सरकारों को टैक्स के रूप में देते हैं.

ADVERTISEMENT

देशभर में पेट्रोल-डीजल पर लगने वाला सेल्स टैक्स / वैट

  • स्रोत : पेट्रोलियम प्लानिंग एंड एनालिसिस सेल द्वारा 1 अप्रैल 2022 को जारी की गई टेबल

  • KL = हजार लीटर

अंडमान और निकोबार

पेट्रोल : 1%

डीजल : 1%

आंध्रप्रदेश

पेट्रोल : 31% वैट + 4रु./लीटर वैट+ 1रु. / लीटर रोड डेवलपमेंट सेस और उस पर वैट

डीजल : 22.25% वैट + 4 रु./लीटर वैट+1रु. / लीटर रोड डेवलपमेंट सेस और उस पर वैट

अरुणाचल प्रदेश

पेट्रोल : 14.5%

डीजल : 7%

असम

पेट्रोल : 32.66% या 22.63 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो, 5 रु. प्रति लीटर का रिबेट और 5.3 रु. प्रति लीटर का अतिरिक्त रिबेट

डीजल : 23.66% या 17.45 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो, 5 रु. प्रति लीटर का रिबेट और 5.1 रु. प्रति लीटर का अतिरिक्त रिबेट

बिहार

पेट्रोल : 23.58% या 16.65 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो (वैट पर अपरिवर्तनीय कर के रूप में 30% अधिभार)

डीजल : 16.37% या 12.33 रु./लीटर जो भी ज्यादा हो (वैट पर अपरिवर्तनीय कर के रूप में 30% अधिभार)

चंडीगढ़

पेट्रोल : 10रु./KL सेस +15.24% या 12.42रु./लीटर जो भी ज्यादा हो

डीजल : 10रु./KL सेस + 6.66% या 5.07रु./लीटर जो भी ज्यादा हो

छत्तीसगढ़

पेट्रोल : 24% वैट + 2 रु. / लीटर वैट

डीजल : 23% वैट +1 रु. / लीटर वैट

दादर और नगर हवेली + दमन और दीव

पेट्रोल : 12.75% वैट

डीजल : 13.50% वैट

दिल्ली

पेट्रोल : 19.40% वैट

डीजल : 250 रु. / KL एयर एम्बियंस चार्ज + 16.75% वैट

गोवा

पेट्रोल : 20% वैट + 0.5% ग्रीन सेस17% वैट + 0.5% ग्रीन सेस

डीजल : 17% वैट + 0.5% ग्रीन सेस


गुजरात

पेट्रोल : 13.7% वैट+ 4% टाउन रेट पर सेस और वैट

डीजल : 14.9% वैट + 4% टाउन रेट पर सेस और वैट

हरियाणा

पेट्रोल : 18.20% या 14.50 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो वैट के रुप में + वैट पर 5% अतिरिक्त टैक्स

डीजल : 16.00% वैट या 11.86 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो वैट के रुप में + वैट पर 5% अतिरिक्त टैक्स

हिमाचल प्रदेश

पेट्रोल : 17.5% या 13.50 रु. प्रति लीटर- जो भी ज्यादा हो

डीजल : 6% या 4.40 रु. प्रति लीटर- जो भी ज्यादा हो

जम्मू और कश्मीर

पेट्रोल : 24% MST+ 2 रु. प्रति लीटर एम्प्लॉयमेंट सेस, 4.50 रुपये प्रति लीटर का रिबेट

डीजल : 16% MST+ 1.00 रु. प्रति लीटर एम्प्लॉयमेंट सेस, 6.50 रु. प्रति लीटर का रिबेट

झारखंड

पेट्रोल : बिक्री मूल्य पर 22% या 17.00 रु. प्रति लीटर, जो भी ज्यादा हो + 1.00 रु. प्रति लीटर का सेस

डीजल : बिक्री मूल्य पर 22% या 12.50 रु. प्रति लीटर, जो भी ज्यादा हो + 1.00 रु. प्रति लीटर का सेस

कर्नाटक

पेट्रोल : 25.92% सेल्स टैक्स

डीजल : 14.34% सेल्स टैक्स


केरल

पेट्रोल : 30.08% सेल्स टैक्स + 1 रु. प्रति लीटर अतिरिक्त सेल्स टैक्स + 1% सेस

डीजल : 22.76% सेल्स टैक्स + 1 रु. प्रति लीटर अतिरिक्त सेल्स टैक्स + 1% सेस

लद्दाख

पेट्रोल : 15% MST+ 5 रु. प्रति लीटर एम्प्लॉयमेंट सेस, 2.5 रु. प्रति लीटर की कटौती

डीजल : 6% MST+ 1 रु. प्रति लीटर एम्प्लॉयमेंट सेस, 0.50 रु. प्रति लीटर की कटौती

लक्षद्वीप

पेट्रोल : Nil

डीजल : Nil

मध्यप्रदेश

पेट्रोल : 29% वैट + 2.5 रु. प्रति लीटर वैट + 1%सेस

डीजल : 19% वैट+ 1.5 रु. प्रति लीटर वैट + 1% सेस

महाराष्ट्र (मुंबई, थाणे, नवी मुंबई अमरावती एवं औरंगाबाद)

पेट्रोल : 26% वैट+ 10.12 रु. प्रति लीटर अतिरिक्त टैक्स

डीजल : 24% वैट+ 3.00 रु. प्रति लीटर अतिरिक्त टैक्स

महाराष्ट्र (बाकी राज्य)

पेट्रोल : 25% वैट+ 10.12 रु. प्रति लीटर अतिरिक्त टैक्स

डीजल : 21% वैट+ 3.00 रु. प्रति लीटर अतिरिक्त टैक्स

मणिपुर

पेट्रोल : 25% वैट

डीजल : 13.5% वैट

मेघालय

पेट्रोल : 13.5% या 11.00 रु. प्रति लीटर- जो भी ज्यादा हो (0.10 रु. प्रति लीटर पॉल्यूशन सरचार्ज)

डीजल : 5% या 4.00 रु. प्रति लीटर- जो भी ज्यादा हो (0.10 रु. प्रति लीटर पॉल्यूशन सरचार्ज)

ADVERTISEMENT

मिजोरम

पेट्रोल : 16.36% वैट

डीजल : 5.23% वैट

नागालैंड

पेट्रोल : 25% वैट या 16.04 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो +5% सरचार्ज + रोड मेंटीनेंस के तौर पर 2.00 रु. प्रति लीटर का सेस, 5.5 रु. प्रति लीटर का रिबेट

डीजल : 16.50% वैट या 10.51 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो + 5% सरचार्ज + रोड मेंटीनेंस के तौर पर 2.00 रु. प्रति लीटर का सेस, 5.1 रु. प्रति लीटर का रिबेट

ओड़िशा

पेट्रोल : 28% वैट

डीजल : 24% वैट

पुडुचेरी

पेट्रोल : 14.55% वैट

डीजल : 8.65% वैट

पंजाब

पेट्रोल : 2050 रु. / KL (सेस) + 0.10 रु. प्रति लीटर (शहरी परिवहन निधि) + 0.25 प्रति लीटर (स्पेशल इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फीस) +13.77% वैट और 10% अतिरिक्त टैक्स या 12.50 रु. / लीटर जो भी ज्यादा हो

डीजल : 1050 रु. / KL (सेस) + 0.10 रु. प्रति लीटर (शहरी परिवहन निधि) + 0.25 प्रति लीटर (स्पेशल इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फीस) + 9.92% वैट और 10% अतिरिक्त टैक्स या 8.24 रु. / लीटर जो भी ज्यादा हो

राजस्थान

पेट्रोल : 31.04% वैट+ 1500 रु. / KL रोड डेवलपमेंट सेस

डीजल : 19.30% वैट+ 1750 रु. / KL रोड डेवलपमेंट सेस

सिक्किम

पेट्रोल : 20% वैट+ 3000 रु. / KL सेस

डीजल : 10% वैट + 2500 रु. / KL सेस

तमिलनाडु

पेट्रोल : 13% +11.52 रु. प्रति लीटर

डीजल : 11% + 9.62 रु. प्रति लीटर

तेलंगाना

पेट्रोल : 35.20% वैट

डीजल : 27% वैट

त्रिपुरा

पेट्रोल : 17.50% वैट+ 3% त्रिपुरा रोड डेवलपमेंट सेस

डीजल : 10.00% वैट+ 3% त्रिपुरा रोड डेवलपमेंट सेस

उत्तर प्रदेश

पेट्रोल : 19.36% या 14.85 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो

डीजल : 17.08% या 10.41 रु. / लीटर जो भी ज्यादा हो

उत्तराखंड

पेट्रोल : 16.97% या 13.14 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो

डीजल : 17.15% या 10.41 रु. प्रति लीटर जो भी ज्यादा हो

पश्चिम बंगाल

पेट्रोल : 25% या 13.12 रु. प्रति लीटर सेल्स टैक्स के तौर पर जो भी ज्यादा हो + 1000 रु./KL सेस –1000 रु./ KL सेल्स टैक्स रिबेट (वैट पर अपरिवर्तनीय कर के रूप में 20% अधिभार)

डीजल : 17% या 7.70 रु. प्रति लीटर सेल्स टैक्स के रूप में जो भी ज्यादा हो + 1000 रु. / KL सेस – 1000 रु. / KL सेल्स टैक्स रिबेट (वैट पर अपरिवर्तनीय कर के रूप में 20% अधिभार)

पेट्रोल डीजल के दाम रोज बदलते हैं, लिहाजा इंडिया ऑइल (IOCL) के ग्राहक RSP लिखकर 9224992249 पर मैसेज करेंतो उन्हें उनके शहर में पेट्रोल डीजल के दाम की जानकारी मिल सकती है.
ADVERTISEMENT

पिछले साल नवंबर में दिवाली के बाद लगभग 25 राज्यों ने वैट कम किया था 

पिछले साल नवंबर में दिवाली की पूर्व संध्या पर तेल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क को कम करने के बाद केंद्र की मोदी सरकार ने राज्यों से वैट कम करने की अपील की थी. उस समय लगभग 25 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने उपभोक्ताओं को राहत देने के लिए पेट्रोल और डीजल पर वैट कम किया था.

इसके बाद पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने कहा था कि कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने पेट्रोल और डीजल पर वैट में कोई कमी नहीं की है. पेट्रोल और डीजल पर वैट कम न करने वाले राज्यों में महाराष्ट्र, दिल्ली एनसीटी, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, केरल, झारखंड, छत्तीसगढ़ और राजस्थान शामिल है.

केंद्र और राज्य सरकार द्वारा क्रमशः केंद्रीय उत्पाद शुल्क और वैट में कमी की घोषणा के बाद पंजाब में पेट्रोल की कीमतों में सबसे अधिक कटौती दर्ज की गई थी. पंजाब में पेट्रोल की कीमत में 16.02 रुपये प्रति लीटर की कमी आई थी, इसके बाद केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में 13.43 रुपये और कर्नाटक में 13.35 रुपये दाम कम हो गए थे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×