ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या है ‘मेड इन चाइना’ में दिखाया गया ‘टाइगर पेनिस सूप’?

बॉलीवुड में एक के बाद एक सेक्शुअल हेल्थ को लेकर फिल्में रिलीज हो रही हैं.

Published
फिट
1 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

बॉलीवुड में एक के बाद एक पुरुषों और महिलाओं के सेक्शुअल हेल्थ को लेकर फिल्में रिलीज हो रही हैं. इस कड़ी में अगली फिल्म है, 'मेड इन चाइना', जिसमें राजकुमार राव, बोमन ईरानी, मौनी रॉय और सुमित व्यास मुख्य किरदार निभा रहे हैं.

'मेड इन चाइना; एक स्ट्रगलिंग गुजराती बिजनेसमैन रघु (राजकुमार राव) की कहानी है, जो एक सफल एंटरप्रन्योर बनने के मकसद से चीन जाता है. वहां उसे 'टाइगर पेनिस सूप' को भारत में प्रचारित करने का ऑफर दिया जाता है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

उसे बताया जाता है कि टाइगर पेनिस सूप पुरुष कौमार्य बढ़ाने के लिए वियाग्रा से 10 गुना बेहतर है.

टाइगर पेनिस सूप

ये एशियन सूप टाइगर के पेनिस से तैयार किया जाता है और इसे वियाग्रा का एक विकल्प माना जाता है और ये बहुत महंगा होता है. हालांकि, मेल वरिलटी के लिए इसकी प्रभावशीलता के वैज्ञानिक प्रमाणों की कमी है.

फिल्म में टाइगर पेनिस सूप इरेक्शन से जुड़ी सभी समस्याओं के लिए बेचा जाने लगता है. रघु एक सेक्सोलॉजिस्ट (बोमन ईरानी) के साथ मिलकर ये प्रोडक्ट असंतुष्ट पुरुषों और महिलाओं को बेचने लगता है.

0

फिल्म का एक डायलॉग है:

"इंडियन लोग क्या चाहते हैं?

अच्छी सड़कें?

नहीं, सेक्स!"

पूरा बिजनेस पुरुषों के सबसे आम डर, सेक्शुअली एफिसिएंट ना होने पर टिका होता है. ट्रेलर में भी हम देखते हैं कि रघु अपनी पत्नी मौनी रॉय पूछता है कि क्या वह बिस्तर में उनके साथ पूरी तरह से संतुष्ट है.

बॉलीवुड में सेक्शुअल हेल्थ पर चर्चा करती कई फिल्में रिलीज हो चुकी हैं, जिसमें शुभ मंगल सावधान, खानदानी शफाखाना, विकी डोनर जैसी फिल्में शामिल हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×