ADVERTISEMENT

UK Monkeypox | नए मामले पिछले मामलों ​​​​से अलग लक्षण दिखा रहे हैं: स्टडी

एक अध्ययन के अनुसार, यूके में मंकीपॉक्स के कुछ नए मामलों ने पिछले मामलों ​​​​की तुलना में असामान्य लक्षण दिखाए हैं.

Published
फिट
2 min read
UK Monkeypox | नए मामले पिछले मामलों ​​​​से अलग लक्षण दिखा रहे हैं: स्टडी
i

लंदन के रिसर्चरों के अनुसार, यूके में मंकीपॉक्स के मरीजों में ऐसे लक्षण देखे गए हैं, जो मंकीपॉक्स के स्थानिक देशों में देखे गए लक्षणों से अलग हैं.

वैश्विक स्तर पर, मंकीपॉक्स केसलोड 5000 से अधिक जा चुका है. मंकीपॉक्स के केस 50 देशों में देखे गए हैं और नाइजीरिया में इस बीमारी से एक मौत भी हुई है. मंकीपॉक्स, जो पश्चिम और मध्य अफ्रीका के कुछ हिस्सों में ही पाया जाता था, ने 2022 में मामलों में भारी वृद्धि देखी है, वो भी उन लोगों में जिनका मंकीपॉक्स के स्थानिक देशों में यात्रा का कोई इतिहास नहीं था.

ADVERTISEMENT

मंकीपॉक्स के रोगी आमतौर पर बुखार, थकान, चकत्ते और चेहरे और अन्य हिस्सों में घाव रिपोर्ट करते हैं, शोधकर्ताओं ने कहा कि यूके में मंकीपॉक्स सम्बंधी मामलों में लोगों ने जेनिटल और एनल क्षेत्रों में घाव रिपोर्ट किए.

अध्ययन के लिए यूके के अलग-अलग क्लीनिकों से 54 व्यक्तियों को शामिल किया गया था.

WHO ने पहले कहा था कि मंकीपॉक्स के जो मामले सामने आ रहे हैं, उनमें से बड़ी संख्या में मामले उन पुरुषों में देखे जा रहे हैं, जो दूसरे पुरुषों के साथ यौन संबंध बनाते हैं.

अध्ययन में, जो द लैंसेट इनफेक्शियस डिजीज जर्नल में प्रकाशित हुआ था, लक्षणों का विवरण इस प्रकार है:

"54 व्यक्तियों में से 36 (67%) ने थकान या सुस्ती रिपोर्ट की, 31 (57%) ने बुखार रिपोर्ट की, और दस (18%) में कोई प्रोड्रोमल लक्षण नहीं देखे गए. सभी रोगियों में त्वचा पर घाव देखे गए, जिनमें से 51 (94%) अनोजेनिटल थे. 54 व्यक्तियों में से 37 (89%) को त्वचा पर एक से अधिक जगह पर घाव थे और 4 (7%) लोगों में ऑरोफरीन्जियल घाव थे. एक चौथाई लोगों में एसटीआई (STI) भी पाया गया."
ADVERTISEMENT

अध्ययन ने निष्कर्ष निकाला कि यूके में फैलने वाले मंकीपॉक्स में असामान्य लक्षण देखे जा रहे हैं और इसका बारीकी से अध्ययन किया जाना चाहिए.

इसमें यह भी कहा गया है कि मामलों की बारीकी से निगरानी करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि मंकीपॉक्स को अन्य एसटीडी (STD) जैसे हर्पीज या सिफलिस के साथ कंफ्यूज किया जा सकता है.

अप्रैल 2022 में मंकीपॉक्स के मामले उन देशों में फैलने लगे, जिनमें वह स्थानिक नहीं है.

जबकि WHO ने कहा है कि मंकीपॉक्स पब्लिक हेल्थ इमर्जन्सी ऑफ इंटरनेशनल कन्सर्न (PHEIC) नहीं है, उसने गर्भवती महिलाओं, इम्युनो कॉम्प्रोमाइज लोग और बच्चों, जिनमें खतरा अधिक है, की निगरानी और टीकाकरण की सलाह दी है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, fit के लिए ब्राउज़ करें

टॉपिक:  Monkeypox   Monkeypox Virus 

ADVERTISEMENT
और देखें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×