भाजपा ने पूर्वी दिल्ली से गौतम गंभीर को बनाया प्रत्याशी
भाजपा ने पूर्वी दिल्ली से गौतम गंभीर को बनाया प्रत्याशी
भाजपा ने पूर्वी दिल्ली से गौतम गंभीर को बनाया प्रत्याशी

भाजपा ने पूर्वी दिल्ली से गौतम गंभीर को बनाया प्रत्याशी

 नई दिल्ली, 22 अप्रैल (आईएएनएस)| भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने क्रिकेटर से राजनेता बने गौतम गंभीर को पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से अपना प्रत्याशी बनाया है।

 भाजपा ने सोमवार को दो उम्मीदवारों की घोषणा की जिनमें गंभीर के अलावा नई दिल्ली संसदीय क्षेत्र से मीनाक्षी लेखी का नाम है। लेखी इस सीट से मौजूदा सांसद हैं।

मीनाक्षी लेखी का मुकाबला यहां कांग्रेस उम्मीदवार अजय माकन और आम आदमी पार्टी के ब्रजेश गोयल से होगा।

गौतम गंभीर को पूर्वी दिल्ली से वर्तमान सांसद महेश गिरी की जगह चुनाव मैदान में उतारा गया है। यहां उनका मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी अरविंदर सिंह लवली और आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार आतिशी से होगा।

58 टेस्ट मैच और 147 एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल चुके दिग्गज बल्लेबाज गंभीर 2007 में टी-20 विश्व कप और 2011 में एक दिवसीय विश्व कप खिताब जीतने वाली भारतीय क्रिकेट टीम का अहम सदस्य रहे हैं। वह औपचारिक रूप 22 मार्च को भाजपा में शामिल हुए।

दिल्ली के राजिंदर नगर के रहने वाले गंभीर (37) 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान अमृतसर में भाजपा प्रत्याशी अरुण जेटली के के हाईप्रोफाइल चुनाव प्रचारक थे। हालांकि भाजपा इस क्षेत्र में चुनाव जीतने में विफल रही।

उसी समय से गंभीर ट्विटर पर भगवा दल और नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार की नीतियों का प्रबल समर्थक रहे हैं।

भाजपा ने रविवार को दिल्ली की सात संसदीय क्षेत्रों में से चार पर अपने सांसदों को उम्मीदवारों को दोबारा चुनाव में उतारने की घोषणा की।

चांदनी चौक से हर्षवर्धन और दिल्ली के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को उत्तर पूर्व दिल्ली से दोबारा प्रत्याशी बनाया गया है। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा के पुत्र प्रवेश वर्मा को दोबारा पश्चिमी दिल्ली से और रमेश विधुरी को दक्षिणी दिल्ली से टिकट दिया गया है।

हालांकि भाजपा ने अभी उत्तर पश्चिमी दिल्ली संसदीय क्षेत्र से अपने प्रत्याशी के नाम का एलान नहीं किया है। यहां से उदित राज वर्तमान सांसद हैं, लेकिन बताया जाता है कि दोबारा प्रत्याशी नहीं बनाए जाने से वह नाराज हैं।

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के WhatsApp या Telegram चैनल से)

Follow our अभी - अभी section for more stories.

    वीडियो