ADVERTISEMENT

दूसरी लहर में गलतियों से सबक, AMU में लगे 4 ऑक्सीजन प्लांट

Oxygen plant installed in AMU परिसर में ऑक्सीजन प्लांट लगाने वाला यह पहला यूनिवर्सिटी बन गया है.

Published
ADVERTISEMENT

सिटिजन रिपोर्टर: अशरफ अली

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) में एक महीने से चल रहे 4 ऑक्सीजन प्लांटों का काम अब पूरा हो चुका है. इसमें प्रत्येक की लागत एक करोड़ 20 लाख आयी है.

पिछली दो कोरोना लहर में ऑक्सीजन की कमी से कई जानें गयी. दूसरी लहर में 20 दिन के अंदर AMU के 20 शिक्षकों की जान वायरस की चपेट में आने के कारण जा चुकी है. 1875 में बनी इस यूनिवर्सिटी के लिए अब तक का यह सबसे बुरा दौर था.
जिसे देखते हुए अलीगढ़ यूनिवर्सिटी ने अपने कैम्पस में ऑक्सीजन प्लांट लगाने की पहल शुरू किया. अप्रैल में इस संयंत्र की मंजूरी दी गयी थी.

ADVERTISEMENT

परिसर में ऑक्सीजन प्लांट लगाने वाला यह पहला यूनिवर्सिटी बन गया है. यह 24 घंटे चलने वाला प्लांट है.

दूसरी लहर की गलतियों से लिया सबक, तीसरे के लिए तैयार

AMU के मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन बेड और वेंटिलेटर्स की संख्या बढ़ा दी गयी है. साथ ही बच्चों की चिकित्सा के लिए पीडिएट्रिक वार्ड भी बनाया गया है. ताकि तीसरी लहर से बड़ो के साथ बच्चों को भी बचाया जा सके. इस काम में केंद्र के साथ राज्य की सरकार यूनिवर्सिटी की मदद कर रही है.

(सभी 'माई रिपोर्ट' ब्रांडेड स्टोरिज सिटिजन रिपोर्टर द्वारा की जाती है, जिसे क्विंट पेश करता है. हालांकि, क्विंट प्रकाशन से पहले सभी पक्षों के दावों / आरोपों की जांच करता है. रिपोर्ट और ऊपर व्यक्त विचार सिटिजन रिपोर्टर के निजी विचार हैं. इसमें क्‍व‍िंट की सहमति होना जरूरी नहीं है.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×