ADVERTISEMENTREMOVE AD

योग गुरु बाबा रामदेव बोले- भारत के मुस्लिम हमारे पूर्वजों की औलादें हैं

MP: Baba Ramdev लहार में एक आयोजन में बीजेपी नेता अंबरीश शर्मा का खुले मंच से चुनावी समर्थन करते नजर आए

Published
न्यूज
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

योगगुरु बाबा रामदेव (Baba Ramdev) सोमवार, 10 अप्रैल को एमपी के भिंड जिले के लहार पहुंचे. वे यहां स्वामी चिन्मयानंद बापू (Swami Chinmayanand Bapu) की भागवत कथा में शामिल होने पहुंचे था. बाबा रामदेव ने यहां मंच से मुस्लिम समुदाय के लोगों को अपने पूर्वजों की औलादें कहा.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

धार्मिक आयोजन में बाबा का चुनावी प्रचार

मध्य प्रदेश की राजनीति में संत समाज का लगातार इन्वॉल्वमेंट देखा जा रहा है. उसी तर्ज पर बाबा रामदेव भी लहार में आयोजित हो रही भागवत कथा के आयोजक और बीजेपी नेता अंबरीश शर्मा का खुले मंच से चुनावी और राजनीतिक समर्थन करते नजर आए. उन्होंने जनता से आने वाले चुनावों में अंबरीश शर्मा को जिताकर विधायक बनाने की अपील की. उन्होंने मंच से बार बार राजनीति और सनातन धर्म को भी जोड़ा. बाबा रामदेव ने कहा कि जो सनातन धर्म से जुड़ा है, सत्ता भी उसी के पास होनी चाहिए.

भागवत कथा के दौरान भी मंच पर मौजूद रहे बाबा रामदेव ने लोगों से बातचीत की. उन्होंने अपने संबोधन में लहार और भिंड की जनता से नशा मुक्ति और योग को लेकर भी चर्चा की. बाबा रामदेव ने लोगों को नशे से दूर रहने की हिदायत दी है.

बाबा रामदेव ने मुस्लिम समुदाय के लिए कहा कि वे लोग इस बात को माने न मानें लेकिन हम उन्हें आज भी अपना समझते हैं. क्योंकि आज से 450 वर्ष पहले तक वे मुसलमान जो भारत में रह रहे हैं, हमारे पूर्वजों की औलादें थी, मुसलमान तो वे औरंगजेब के आने के बाद बने. उन्होंने कहा कि हमारे पूजा का तरीका अलग हो सकता है लेकिन पूर्वज अलग नहीं हो सकते.

बाबा रामदेव ने यह भी कहा कि भारत में रहने वाले ईसाई और मुसलमान हमारे अपने हैं उसमें हमारे जैसा ही कोण है, हमारी जैसी ही खाल है और वे हमारे ही कुल वंश के हैं. वे हमारे अपने हैं, अगर कुछ गलत करेंगे तो उन्हें हम समझाएंगे और बाबा गलत करेंगे तो शासन प्रशासन अपना काम करेगा लेकिन हम किसी से नफरत नहीं करेंगे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×