ADVERTISEMENT

Sidhu Moose Wala Murder: मास्टरमाइंड गोल्डी बरार कैलिफोर्निया में पकड़ा गया

Sidhu Moose Wala Murder: लॉरेंस बिश्नोई गैंग के सदस्य गोल्डी बरार ने मई में मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली थी.

Published
Sidhu Moose Wala Murder: मास्टरमाइंड गोल्डी बरार कैलिफोर्निया में पकड़ा गया
i
Like
Hindi Female
listen

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या (Sidhu Moose Wala Murder) के मास्टरमाइंड गोल्डी बरार (Goldy Brar Detained) को कैलिफोर्निया (California) में हिरासत में लिया गया है. पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने अहमदाबाद में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इस बात की पुष्टि की है.

ADVERTISEMENT

हम क्या जानते हैं: गोल्डी बरार लॉरेंस बिश्नोई गिरोह का सदस्य है और सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की पूरी साजिश रचने का मुख्य आरोपी है. सीएम भगवंत मान ने कहा कि,

"कैलिफोर्निया पुलिस ने गोल्डी बरार को डिटेन किया है. उन्होंने भारत सरकार और पंजाब पुलिस से संपर्क किया है. उसे जल्द ही भारत लाया जाएगा और पूछताछ करेंगे."

पंजाब पुलिस के सूत्रों ने क्विंट को बताया कि वह हाल ही में कनाडा से अमेरिका चला गया था और 20 नवंबर को कैलिफोर्निया में हिरासत में लिया गया है.

गोल्डी बरार कौन है?: सतिंदर सिंह उर्फ गोल्डी बरार लॉरेंस बिश्नोई का करीबी माना जाता है. बरार के खिलाफ भारत में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. जैसे 2021 में फरीदकोट जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष गुरलाल सिंह पहलवान की हत्या का मामला. इस मामले में उसके खिलाफ कोर्ट ने गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किया था.

गोल्डी बरार A+ कैटगरी का गैंगस्टर है और कोर्ट ने उसे भगोड़ा घोषित किया हुआ है. पिछले दिनों इंटरपोल ने उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था.

पंजाब के श्री मुक्तसर साहिब का रहने वाले सतविंदर सिंह उर्फ गोल्डी बरार का जन्म 1994 में हुआ था. वो साल 2017 में छात्र वीजा पर कनाडा गया था. गोल्डी BA की डिग्री हासिल कर चुका है.

मूसेवाला हत्याकांड में कैसे नाम आया?: इस साल 29 मई को सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. तब मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए बरार ने फेसबुक पोस्ट में लिखा था,

"लॉरेंस बिश्नोई गैंग का मैं, सचिन बिश्नोई धत्तारनवाली, सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी लेते हैं. उसका नाम विक्की मिद्दुखेड़ा और गुरलाल बराड़ की हत्या के मामले में सामने आया था और इसके बावजूद पुलिस ने कुछ नहीं किया."

इस मामले में दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) से भी पूछताछ की जा रही है. गोल्डी बरार लॉरेंस बिश्नोई के करीबियों में से है. दोनों कॉलेज के समय से ही साथ में हैं. गोल्डी बरार पर हत्या, हत्या की कोशिश, आपराधिक साजिश रचने और हथियारों की तस्करी करने का आरोप है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
और खबरें
×
×