ADVERTISEMENTREMOVE AD

UP: देवरिया हत्याकांड में 27 नामजद, 50 अज्ञात के खिलाफ FIR, CM योगी घायल बच्चे से मिले

देवरिया में जमीन विवाद मामले में सोमवार को एक ही परिवार के पांच सदस्यों समेत छह लोगों की हत्या कर दी गई थी.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के देवरिया (Deoria) में पुलिस ने छह व्यक्तियों की हत्‍या के मामले में सत्य प्रकाश दुबे की बेटी शोभिता की शिकायत पर 27 लोगों को नामजद किया है और 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या, जानलेवा हमला और मारपीट जैसी विभिन्न धाराओं के तहत FIR दर्ज किया है. सोमवार को एक ही परिवार के 5 लोगों की उनके घर में हत्या कर दी गई थी.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

FIR में क्या है?

FIR के अनुसार, शोभिता ने कहा कि 2014 में उसके चाचा प्रकाश दुबे का अपहरण करने के बाद परिवार के प्रतिद्वंद्वी प्रेम प्रकाश यादव ने उनका पूरा खेत अपने नाम पर पंजीकृत करवा लिया था.

उसने कहा, “जब मेरे पिता सत्यप्रकाश दुबे को इस बारे में पता चला, तो उन्होंने अदालत में मामला दायर किया. ये मामला अभी भी चल रहा है. इसी प्रतिद्वंद्विता के कारण हमारे घर पर हमला किया गया.''

प्राथमिकी में कहा गया है कि सोमवार को लाठी-डंडे, बंदूक व हथियार से लैस दर्जनों हमलावरों ने सत्य प्रकाश दुबे के घर पर हमला करने की कोशिश की.

शोभिता ने बताया कि पिता ने घर का दरवाजा बंद कर लिया था, लेकिन हमलावर बंद दरवाजे को तोड़कर घर में घुस गए और उनके पिता सत्य प्रकाश दुबे, मां किरण देवी, भाई दीपेश उर्फ गांधी और बहनों सलोनी और नंदिनी की हत्या कर दी. हमले में छोटा भाई 8 वर्षीय प्रजेश भी गंभीर रूप से घायल हो गया. घायल भाई का अस्पताल में इलाज चल रहा है.
0

CM योगी घायल बच्चे से मिले

इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज का दौरा किया और अस्पताल में भर्ती बच्चे का हालचाल लिया. उन्होंने बच्चे से मुलाकात की और डॉक्टरों से उचित इलाज सुनिश्चित करने को कहा.

"जनपद देवरिया की दुर्भाग्यपूर्ण घटना अत्यंत दुःखद एवं निंदनीय है. मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ है. एडीजी, कमिश्नर और आईजी को मौके पर पहुंचकर कठोरतम कार्रवाई और जिला प्रशासन के अधिकारियों को घायलों के समुचित उपचार के निर्देश दिए हैं."
योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री, यूपी

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि इस घटना के दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा. वहीं तनाव के मद्देनजर गांव में अतिरिक्त पुलिसबलों को तैनात किया गया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें