CBSE बोर्ड एग्जाम रद्द तो कैसे होगी मार्किंग,‘ऑप्शन’ क्या है । FAQ

ऐसे में छात्रों के लिए ये ‘ऑप्शन’ क्या हैं? इसके बारे में अबतक जो पता, वो जानते हैं.

Updated25 Jun 2020, 01:10 PM IST
शिक्षा
2 min read

केंद्र सरकार ने 25 जून को सुप्रीम कोर्ट में कहा कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने 12वीं की बोर्ड परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया है. हालांकि, छात्रों के पास 'ऑप्शन' होगा कि हालात 'अनुकूल' होने के बाद वो एग्जाम दे सकते हैं.

सुप्रीम कोर्ट का अंतिम फैसला 26 जून सुबह 10.30 बजे के करीब आने की उम्मीद है. जब केंद्र सरकार एसेसमेंट के तरीके, इंटरनल एग्जाम और एग्जाम के बीच मार्किंग और दूसरे चीजों पर ताजा नोटिफिकेशन जारी कर देगी.

ऐसे में छात्रों के लिए एग्जाम 'ऑप्शन' क्या हैं? इसके बारे में अबतक जो पता, वो जानते हैं.

क्या इसका मतलब ये है कि 12वीं की बोर्ड परीक्षा वास्तव में रद्द नहीं हुई है?

नहीं, जो एग्जाम 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच होने थे, वो रद्द हुए हैं. केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि जैसे ही ‘हालात अनुकूल हो जाते हैं’, छात्रों को परीक्षा का ‘ऑप्शन’ दिया जाएगा.

‘अनुकूल’ का मतलब क्या है? कौन ये तय करेगा कि एग्जाम कराने के लिए हालात अनुकूल हो गए हैं?

अनुकूल का मतलब है वो स्थिति जब चीजें निश्चित काम के लिए सही हो जाएं. एग्जाम के लिए इस शब्द की बात करें तो कोरोना वायरस महामारी के इस दौर में वो स्थिति जब एग्जाम कराए जाने के लिए स्थिति नियंत्रण में हो, संक्रमण का खतरा खत्म हो जाए या कुछ हद तक काबू में आ जाए.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ये तय करेगा कि कब हालात एग्जाम के लिए अनुकूल हो गए हैं.

अगर कोई एग्जाम का ऑप्शन नहीं चुनता है तो उसकी मार्किंग कैसे होगी?

स्टूडेंट्स के किसी खास सब्जेक्ट में पिछले तीन परीक्षाओं में हासिल किए गए नंबर को ध्यान में रखते हुए CBSE में मार्किंग किया जाएगा. मतलब कि आपने एक सब्जेक्ट में पिछले तीन एग्जाम में कितने नंबर हासिल किेए, उस आधार पर मार्किंग होगी. ऐसा केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है. हालांकि, कोर्ट ने इस तरह के मूल्यांकन पर ज्यादा जानकारी 26 जून तक मांगी है.

इंटरनल असेसमेंट या एग्जाम के ऑप्शन के लिए डेडलाइन क्या है?

CBSE ने अभी तारीखों का ऐलान नहीं किया है. आप हमारे साथ बने रहिए, हर अपडेट हम आपतक पहुंचाएंगे.

क्या कोई इंटरनल असेसमेंट और एग्जाम दोनों का ऑप्शन चुन सकता है? और जहां बेहतर मार्क मिले वो चुन सकते हैं?

कोई भी स्टूडेंट एग्जाम या इंटरनल असेसमेंट दोनों में से कोई ऑप्शन चुन सकता है. जो स्टूडेंट एग्जाम का ऑप्शन चुनेंगे, उनके लिए वही नंबर मान्य होंगे.

CBSE कक्षा 12 बोर्ड एग्जाम के नतीजे कब आएंगे?

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में बताया है कि जो परीक्षाएं पहले ही हो चुकी हैं, उनके नतीजे अगस्त में आएंगे. और नया एकेडमिक ईयर सितंबर 2020 से शुरू होगा. हालांकि, ये सब भी 26 जून को नए नोटिफिकेशन के साथ कंफर्म होगा.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 25 Jun 2020, 12:57 PM IST

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!