ADVERTISEMENTREMOVE AD

"गाड़ी बदली, कपड़ा बदला", पंजाब पुलिस ने बताया Amritpal Singh कैसे हुआ फरार?

Amritpal Singh: AG विनोद घई ने अदालत को बताया कि अमृतपाल सिंह को छोड़कर सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

Published
भारत
2 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा

अलगाववादी अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. इसी बीच, पंजाब IG (मुख्यालय) सुखचैन सिंह ने बताया है कि आखिर 18 मार्च को अमृतपाल सिंह कैसे पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया? उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस ने वो ब्रेजा कार भी बरामद कर ली है जिसमें अमृतपाल फरार हो गया था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
अमृतपाल सिंह को भागने में मदद करने वाले चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से एक 315 बोर राइफल, कुछ तलवारें और वॉकी-टॉकी बरामद किया गया है.
सुखचैन सिंह, पंजाब आईजी (मुख्यालय)

अमृतपाल ने गुरुद्वारे में बदला था कपड़ा

सुखचैन सिंह ने कहा कि आरोपी से पूछताछ करने पर पता चला कि अमृतपाल नंगल अंबियन गुरुद्वारे गया और वहां उसने पैंट और शर्ट बदला. इसके बाद तीन लोगों ने उसकी मदद की, जो उसे मोटरसाइकिल पर साथ ले गए.

पुलिस को कैसे चकमा देकर भागा अमृतपाल सिंह?-HC

इससे पहले मंगलवार को पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने अमृतपाल सिंह के "भागने" पर राज्य सरकार की खिंचाई की और पूछा कि आखिर वो कैसे पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. कोर्ट ने पंजाब के एडवोकेट जनरल विनोद घई से पूछा, "आपके पास 80 हजार पुलिस है, उसे कैसे गिरफ्तार नहीं किया गया?"

कैसे भागा अमृतपाल सिंह?

इस पर जालंधर पुलिस कमिश्नर ने हलफनामा दायर कर कोर्ट को पूरी स्थिति के बारे में विस्तार से बताया. हलफनामे में कहा गया कि अमृतपाल को गिरफ्तार करने के लिए 18 मार्च को एक ऑपरेशन शुरू किया गया था. पुलिस नाका भी तैयार था. उसी समय अमृतपाल और उसकी गाड़ियों का काफिला वहां आया था. वो खुद मर्सिडीज गाड़ी में मौजूद था और उसके साथी दूसरी गाड़ियों में आ रहे थे. कुल चार गाड़ियां पुलिस नाके के पास आ गई थीं. उनके काफिले को पुलिस ने तुरंत रोका था. लेकिन उन्होंने रुकने के बजाय गाड़ी की स्पीड बढ़ा दी और बैरिकेड तोड़ दिया.

0

बैरिकेड तोड़कर भागा अमृतपाल सिंह

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि इस घटना को लेकर एक FIR दर्ज की गई थी. खालचियान पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज हुआ था और सभी पुलिस स्टेशन को अलर्ट कर दिया गया था. जानकारी दी गई थी कि चार गाड़ियां बैरिकेड तोड़कर भागी हैं, उन्हें पकड़ना है.

पुलिस कमिश्नर ने ये भी बताया है कि चॉकलेटी रंग की ISUZU गाड़ी में अमृतपाल सवार था. वहां लोगों में खौफ पैदा करने के लिए वो अपनी राइफल हवा में लहरा रहा था. इसके बाद उस गाड़ी को वहीं छोड़कर दूसरी गाड़ी ब्रेजा में सवार हो गया. तब वो और उसके साथी शाहकोट के लिए निकल गए. वहां एक तरफ प्लेटिना बाइक पर अमृतपाल सवार हुआ तो वहीं उसका दूसरा साथी बुलेट लेकर निकल गया.

AG विनोद घई ने अदालत को बताया कि अमृतपाल सिंह को छोड़कर सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्होंने कोर्ट से कहा कि अमृतपाल सिंह के खिलाफ सख्त NSA लगाया गया है.

NIA को सौंपी नहीं गई जांच

अमृतपाल सिंह की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ने सर्च अभियान तेज कर दिया है.पंजाब के आईजी सुखचैन सिंह गिल ने बताया कि अमृतपाल सिंह के मामले की जांच अभी तक NIA को नहीं सौंपी गयी है. उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट और लुकआउट सर्कुलर जारी किया गया है. वहीं, अदालत ने अमृतपाल सिंह की गिरफ्तारी के लिए गैर-जमानती वारंट जारी किया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें