ADVERTISEMENTREMOVE AD

स्वाति मालीवाल केस: CM केजरीवाल के माता-पिता से पूछताछ के दावे पर क्या बोली दिल्ली पुलिस?

Swati Maliwal Case: अरविंद केजरीवाल ने कहा कि घटना के दो पहलू हैं. पुलिस को दोनों पहलू की निष्पक्ष जांच करनी चाहिए.

Published
भारत
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

स्वाति मालीवाल मारपीट मामले (Swati Maliwal Case) में सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ी. सीएम केजरीवाल ने मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की, जिसके तुरंत बाद AAP राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal) ने उनपर पलटवार किया. इसके बाद, अरविंद केजरीवाल ने 22 मई को दावा किया कि दिल्ली पुलिस इस मामले में उनके माता-पिता से पूछताछ करेगी.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

सीएम केजरीवाल ने 22 मई को सोशल मीडिया 'एक्स' पर दावा करते हुए लिखा, "कल दिल्ली पुलिस मेरे बूढ़े और बीमार माता-पिता से पूछताछ करने आएगी."

इसके बाद, 23 मई की सुबह स्वाति मालीवाल समेत AAP के नेता सीएम आवास पहुंचे. इस बीच सीएम केजरीवाल ने फिर से ट्वीट कर लिखा-"मैं अपने माता-पिता और पत्नी के साथ पुलिस का इंतजार कर रहा हूं, कल पुलिस ने फोन करके मेरे माता-पिता से पूछताछ के लिए टाइम मांगा था. लेकिन वो आएंगे या नहीं - इसकी उन्होंने कोई जानकारी अभी नहीं दी"

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि AAP की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल के साथ कथित मारपीट के मामले में और लोगों से पूछताछ की जाएगी. इसी सिलसिले में पुलिस सिविल लाइंस स्थित सीएम के घर भी जाएगी.

हालांकि पुलिस अधिकारी ने कहा कि मामले में पूछताछ बाद में भी की जा सकती है.

इससे पहले AAP नेता आतिशी ने इस एक्शन के लिए बीजेपी से सवाल किया. आतिशी ने पूछा...

“मैं पीएम और बीजेपी से पूछना चाहती हूं, उनके माता-पिता लगभग 80-85 साल के हैं. केजरीवाल के पिता बिना सहारे नहीं चल पाते; मां को एक लंबे वक्त के बाद अस्पताल से छुट्टी मिली है. क्या उन्हें ऐसा लगता है कि उन्होंने मालीवाल पर हमला किया?”

केजरीवाल ने स्वाति मालिवाल मामले पर क्या कहा?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने AAP सांसद स्वाति मालीवाल के साथ उनके सरकारी आवास पर कथित मारपीट पर अपनी पहली प्रतिक्रिया में 22 मई को कहा कि उन्हें उम्मीद है कि मामले की निष्पक्ष जांच होगी और न्याय मिलेगा. न्यूज एजेंसी PTI पीटीआई को दिए इंटरव्यू में मुख्यमंत्री ने कहा कि मामला फिलहाल न्यायालय में विचाराधीन है और उनकी टिप्पणी से कार्यवाही प्रभावित हो सकती है.

“घटना मेरे सामने नहीं हुई. लेकिन मुझे उम्मीद है कि निष्पक्ष जांच होगी. न्याय मिलना चाहिए. घटना के दो पहलू हैं. पुलिस को दोनों पहलू की निष्पक्ष जांच करनी चाहिए."
अरविंद केजरीवाल, मुख्यमंत्री, दिल्ली

बता दें, फिलहाल केजरीवाल के पीए आरोपी विभव कुमार पांच दिन के पुलिस हिरासत में है.

सीएम के बयान पर स्वाति मालीवाल ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा "मेरे कंप्लेंट फाइल करते ही नेताओं और वॉलंटियर की पूरी आर्मी मेरे पीछे लगाई गई, मुझे बीजेपी का एजेंट बुलाया गया, मेरा चरित्र हरण कराया गया, काट पीट के वीडियो लीक की गई, मेरी विक्टिम शेमिंग की गई. आरोपी के साथ घूमे, उसको क्राइम सीन पे दोबारा आने दिया और सबूत से छेड़छाड़ की गई, आरोपी के लिये खुद सड़क पे उतर गये, और अब मुख्यमंत्री साहब जिनके ड्राइंग रूम में मुझे पीटा गया, वो कह रहे हैं कि उन्हें इस मामले में निष्पक्ष जांच चाहिए."

स्वाति मालिवाल ने नाराजगी जताते हुए आगे लिखा, "इससे बड़ी विडंबना क्या ही होगी. मैं इसे नहीं मानती. कथनी और करनी एक समान होनी चाहिए"

ADVERTISEMENTREMOVE AD

स्वाति मालीवाल पर कथित हमले को लेकर आशा देवी (दिल्ली निर्भया कांड की मां) ने भी बुधवार को बयान दिया है. आशा देवी ने एक वीडियो जारी कर कार्रवाई की मांग की.

आशा देवी ने कहा, मैंने मालीवाल के साथ काम किया है. केजरीवाल दिल्ली के सीएम हैं. हर कोई उनसे महिला सुरक्षा चाहता है. अरविंद केजरीवाल को स्वाति मालीवाल के मामले पर बोलना चाहिए. उन्हें कार्रवाई करनी चाहिए और स्वाति का भाई होने के नाते उसका समर्थन करना चाहिए.’

स्वाति मालीवाल ने समर्थन में उतरी आशा देवी को धन्यवाद दिया. स्वाति मालीवाल ने लिखा "निर्भया की माता जी ने देश में इंसाफ की लंबी लड़ाई लड़ी है. जब मैं बच्चों के रेपिस्ट को सजा दिलाने के लिए अनशन कर रही थी, तब भी उन्होंने मेरा साथ दिया था. आज उन्होंने मेरे समर्थन में ये वीडियो बनाई तो दिल बड़ा भावुक हुआ.

मालीवाल ने आगे लिखा कि, अभी कुछ नेता मेरा समर्थन करने के लिए इन्हें भी BJP एजेंट बता देंगे!

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×