हमसे जुड़ें
ADVERTISEMENTREMOVE AD

Bihar Cabinet: नीतीश कैबिनेट का विस्तार, तेज प्रताप ने ली शपथ, RJD का दबदबा

नीतीश कुमार की सरकार में नई कैबिनेट में अलग-अलग दलों से लगभग 31 सदस्यों को शामिल किया जाएगा.

Updated
भारत
3 min read
Bihar Cabinet: नीतीश कैबिनेट का विस्तार, तेज प्रताप ने ली शपथ, RJD का दबदबा
i
Hindi Female
listen

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

बिहार (Bihar) में महागठबंधन की सरकार बन चुकी है और आज यानी 16 अगस्त 2022 की नई सरकार के कैबिनेट का विस्तार हो रहा है. कैबिनेट में अलग-अलग दलों से लगभग 31 सदस्यों को शामिल किया गया है. वहीं लालू यादव (Lalu Yadav) की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) का दबदबा देखने को मिला है. लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप ने मंत्री पद की शपथ ली है. राजभवन में राष्ट्रगान के बाद मंत्रियों का शपथ ग्रहण शुरू हुआ.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

वहीं इसके अलावा जेडीयू के विधायक और पूर्व मंत्री विजय चौधरी ने एक बार फिर मंत्री पद की शपथ ली है. राज्यपाल फागू चौहान ने मंत्रियों को शपथ दिलाई. विजय कुमार चौधरी पहले भी पूर्व सरकार में शिक्षा मंत्री थे.

बता दें कि शपथ ग्रहण समारोह के दौरान एक अनोखी चीज देखने को मिली है, इस बार एक बार में पांच विधायकों को एक साथ मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है. सबसे पहले विजय चौधरी, बिजेंद्र प्रसाद यादव, तेज प्रताप यादव, आफाक आलम और आलोक मेहता ने मंत्री पद की शपथ ली है. बिजेंद्र यादव सुपौल से विधायक हैं. वहीं कांग्रेस कांग्रेस से आफाक आलम पुर्णिया जिले की कसबा सीट से विधायक हैं. अफाक कसबा सीट से चार बार विधायक रह चुके हैं.

दूसरे फेज में जेडीयू के अशोक चौधरी, लेशी सिंह, श्रवण कुमार, आरजेडी के डॉक्टर रामानंद यादव और डॉक्टर सुरेन्द्र यादव ने मंत्री पद की शपथ ली.

तीसरे फेज में जेडीयू के मदन सहनी और संजय कुमार झा, आरजेडी के कुमार सरबजीत और ललित कुमार यादव, हम के संतोष कुमार सुमन ने शपथ ली.

चौथे फेज में जेडीयू की शीला मंडल और सुनील कुमार, आरजेडी के चंद्र शेखर और समीर महासेठ और निर्दलीय सुमित सिंह ने शपथ ली.

पांचवें फेज में आरजेडी की अनिता देवी, सुधाकर सिंह, जितेंद्र राय और जेडीयू के कोटे से जमा खान और जयंत राज ने मंत्री पद की शपथ ली.

अनिता देवी नोखा से विधायक हैं. पति आनंद मोहन के निधन के बाद पहली बार 2015 में विधायक बनी थीं. सुधाकर सिंह RJD के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के पुत्र हैं. रामगढ़ से पहली बार विधायक बने हैं. और पहली बार में ही मंत्री बन रहे हैं. वहीं जमा खान बीएसपी से जीते हैं और जीत के बाद जेडीयू में शामिल हो गए. नीतीश कुमार ने इससे पहले उन्हें अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री बनाया था.

RJD के 16 मंत्री

नीतीश मंत्रिमंडल में RJD कोटे से शामिल होने वाले मंत्रियों के नाम-

  1. तेज प्रताप यादव

  2. आलोक मेहता

  3. अनिता देवी

  4. सुरेंद्र यादव

  5. चंद्रशेखर यादव

  6. ललित यादव

  7. रामानंद यादव

  8. सुधाकर सिंह

  9. कुमार सरबजीत

  10. जितेंद्र राय

  11. कार्तिकेय सिंह

  12. समीर महासेठ

  13. शहनवाज आलम

  14. मोहम्मद शमीम

  15. इसराइल मंसूरी

  16. सुरेंद्र राम

छठे फेज में कांग्रेस के मुरारी प्रसाद गौतम, RJD के कार्तिकेय सिंह, सुरेंद्र राम, मोहम्मद शमीम, मोहम्मद शाहनवाज और इसराइल मंसूरी को राज्यपाल फागू चौहान ने शपथ दिलाई.

मोहम्मद शहनवाज अररिया के जोकीहाट से पहली बार विधायक बने हैं. शहनवाज सीमांचल के गांधी कहे जाने वाले पूर्व सांसद तस्लीमुद्दीन के बेटे हैं. असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM से बने विधायक शाहनवाज कुछ दिन पहले ही आरजेडी में शामिल हुए थे.
ADVERTISEMENTREMOVE AD

JDU के 11 मंत्री

  1. विजय चौधरी

  2. बिजेंद्र प्रसाद यादव

  3. अशोक चौधरी

  4. श्रवण कुमार

  5. लेशी सिंह

  6. मदन सहनी

  7. शीला मंडल

  8. जमा खान

  9. सुनील कुमार

  10. संजय झा

  11. जयंत राज

वहीं इन सबके बीच जीतनराम मांझी की हिंदुस्तान अवाम मोर्चा को भी नीतीश मंत्रीमंडल में शामिल किया गया है. 'हम' के मुताबिक जीतनराम मांझी के बेटे और विधायक संतोष मांझी को नीतीश कुमार के मंत्रीमंडल में जगह दी गई है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

कांग्रेस से दो मंत्री

बिहार कांग्रेस (Bihar Congress) में मंत्री बनने की चाहत कई विधायकों में जाग गई थी. एक के बाद एक विधायक कांग्रेस आलाकमान से अपने लिए मंत्रीपद मांग रहे थे. इसी बीच कांग्रेस के बिहार प्रभारी भक्त चरण दास ने कहा था कि कैबिनेट में कांग्रेस कोटे से तीन मंत्री शपथ लेंगे. हालांकि अब सिर्फ दो मंत्री ने शपथ लिया है. कांग्रेस की ओर से नीतीश कैबिनेट में आज कांग्रेस से आफाक आलम और मुरारी गौतम ने शपथ लिया है.

इससे पहले बिहार में कांग्रेस के विधायक छत्रपति यादव ने पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी को लेटर लिखकर अपनी जाति बताते हुए मंत्री पद मांगा था.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
और खबरें
×
×