ADVERTISEMENTREMOVE AD

CDS बिपिन रावत Mi-17V-5 पर थे सवार, PM से लेकर तमाम VVIP करते हैं इस्तेमाल

Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर से प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति तक यात्रा करते हैं.

Published
भारत
1 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

बुधवार 8 दिसंबर को सीडीएस बिपिन रावत (CDS BIPIN RAWAT) का हेलिकॉप्टर तमिलनाडु के कुन्नूर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस हादसे में कई लोगों के मारे जाने की खबर है, हालांकि सीडीएस रावत के बारे में फिलहाल सरकार की तरफ से कोई जानकारी नहीं दी गई है. जो Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ है, वह बेहद ही आधुनिक और सुरक्षित माना जाता है. आइए जानते हैं इस हेलिकॉप्टर के बारे में..

ADVERTISEMENTREMOVE AD

VVIP मूवमेंट के लिए  इस्तेमाल

कुन्नूर में हादसे का शिकार हुआ Mi-17V-5 एक वीवीआईपी हेलिकॉप्टर माना जाता है, इसमें प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति तक सफर करते हैं. इस डबल इंजन हेलिकॉप्टर को Mi-8 एयरफ्रेम पर तैयार किया गया है. इस हेलिकॉप्टर को उष्णकटिबंधीय और समुद्री जलवायु के अलावा रेगिस्तानी उड़ानों के लिए भी काफी मुफीद माना जाता है. इसका निर्माण रूसी कंपनी कजान हेलिकॉप्टर्स करती है.

रक्षा से जुड़ी वेबसाइट airforce technology.com के अनुसार हेलिकॉप्टर का फ्लोर एरिया 12.5m² है, जबकि इसका स्पेस 23m³ है. इस हेलिकॉप्टर में पैराशूट इक्विपमेंट, सर्चलाइट, FLIR सिस्टम और इमर्जेंसी फ्लोटेशन सिस्टम की सुविधा है.

बेहतरीन हथियारों से लैस

Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर का अधिकतम टेकऑफ वजन 13,000 KG है, यह एक साथ 36 सैनिकों को एकबार में लेकर उड़ान भर सकता है. इसमें नाइट विजन इक्विपमेंट, वेदर रेडार और ऑटो पायलट सिस्टम भी है. इसकी अधिकतम गति 250 किमी प्रतिघंटा है.

यह हेलिकॉप्टर कई तरह के हथियारों से भी लैस बताया जाता है. इसमें शतर्म-5 मिसाइल्स, एस-8 रॉकेट, एक 23 मिमी मशीन गन, पीकेटी मशीन गन्स आदि से लैस है. ऑपरेशनों, पेट्रोलिंग, राहत एवं बचाव कार्यों में इस हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल किया जाता है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×