ADVERTISEMENTREMOVE AD

कनाडा में इंदिरा गांधी की हत्या वाली झांकी पर क्या बोले विदेश मंत्री एस. जयशंकर?

Congress ने विदेश मंत्री एस जयशंकर से इस मामले को लेकर कनाडाई अधिकारियों के साथ सख्ती से पेश आने की अपील की है.

Published
भारत
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

कनाडा (Canada) के ब्रैंपटन में भारत की भूतपूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) की हत्या की परेड निकालने का मामला भारत में तूल पकड़ रहा है. भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इस पर सख्त नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि यह भारत-कनाडा के रिश्तों के लिए अच्छा नहीं है. उन्होंने कहा कि इस तरह कि घटना दोनों देशों के लिये सही नहीं है. सोशल मीडिया पर परेड का एक वीडियो सामने आया था, जिसमें दिवंगत इंदिरा गांधी को दो गनमैन द्वारा गोली मरते हुए दिखाया गया था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

यह वोट बैंक की राजनीति है- जयशंकर 

पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या की परेड की खबरों पर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि... 

मुझे लगता है कि इसमें एक बड़ा मुद्दा शामिल है. साफ तौर पर हमें वोट बैंक की राजनीति के अलावा यह समझ नहीं आ रहा है कि कोई ऐसा क्यों करेगा? मुझे लगता है कि ये एक बड़ा मुद्दा है कि क्या कनाडा अपनी जमीन अलगाववादियों, चरमपंथियों, हिंसा की वकालत करने वाले लोगों को दे रहा है. मुझे लगता है कि यह रिश्तों के लिए अच्छा नहीं है और विशेषकर कनाडा के लिए तो बिल्कुल सही नहीं है.
एस जयशंकर, विदेश मंत्री
कांग्रेस ने विदेश मंत्री एस जयशंकर से इस मामले को लेकर कनाडाई अधिकारियों के साथ सख्ती से पेश आने की अपील की है.

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिंद देवड़ा ने एक कथित वीडियो शेयर कर कहा कि कनाडा के ब्रैम्पटन शहर में इंदिरा गांधी की हत्या को दर्शाने वाली 5 किमी लंबी परेड से एक भारतीय के तौर पर मैं स्तब्ध हूं. यह पक्ष लेने के बारे में नहीं है, यह देश के इतिहास के सम्मान और इसके प्रधानमंत्री की हत्या के दर्द के बारे में है.

0

देवड़ा के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि मैं पूरी तरह से सहमत हूं. यह निंदनीय है और एस जयशंकर को इसे कनाडा के अधिकारियों के साथ मजबूती से उठाना चाहिए.

भारत में कनाडा के उच्चायुक्त ने भी की निंदा 

वहीं भारत में कनाडा के उच्चायुक्त कैमरून मैके ने भी इस घटना की निंदा की है. उन्होंने कहा कि वह अपने देश में उस घटना की खबरों से "हैरान" हैं कि कनाडा में भारतीय प्रधानमंत्री की हत्या का "जश्न" मनाया गया. मैके ने एक ट्वीट में कहा कि कनाडा में नफरत या हिंसा के महिमामंडन के लिए कोई जगह नहीं है. मैं इन गतिविधियों की कड़ी निंदा करता हूं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×