ADVERTISEMENT

MP: दलित दूल्हे के घोड़ी चढ़ने से नाराज दबंगों ने शादी वाले घर पर किया पथराव

भीम आर्मी और पुलिस की मदद से दूल्हा घोड़ी पर बैठकर निकला

Published
भारत
2 min read
MP: दलित दूल्हे के घोड़ी चढ़ने से नाराज दबंगों ने शादी वाले घर पर किया पथराव
i

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सागर जिले के बंडा थाना क्षेत्र के गांव गनियारी में गांव के ही कुछ लोगों ने पुरानी परंपरा को तोड़ने के नाम पर दूल्हे के घर पर पथराव कर दिया और बाहर खड़े वाहनों में तोड़फोड़ की. घटना की सूचना मिलने पर जिले के भीम आर्मी के सदस्यों और स्थानीय पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर मदद की और शादी संपन्न करवाई गई. इस दौरान उपद्रव मचाने वालों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई शुरू की है.

ADVERTISEMENT

क्या है पूरा मामला?

रविवार, 23 जनवरी को गनियारी गांव के दिलीप अहिरवार की शादी थी और वह घोड़े पर बैठकर पूजन के लिए जा रहा था. गांव में एक पक्ष ने कहा कि, पुरानी परंपरा चली आ रही है कि दलित समाज के दूल्हे को घोड़े पर नहीं बैठाया जाता है. इसी बात को लेकर विवाद शुरू हो गया.

शाम को बारात गांव से चली गई, उसके बाद गांव के कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा शादी वाले घर और आसपास के घरों पर पथराव किया गया और वाहनों में तोड़फोड़ की गई. हंगामा होने पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा.

भीम आर्मी और पुलिस की मदद से निकाली गई बारात

MP: दलित दूल्हे के घोड़ी चढ़ने से नाराज दबंगों ने शादी वाले घर पर किया पथराव

इस मामले में भीम आर्मी भी सक्रिय हुई और उसके बाद पुलिस और भीम आर्मी के सदस्यों की देखरेख में दूल्हे की बारात निकलवाई गई.

भीम आर्मी के जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र अहिरवार ने कहा कि इस मामले में मुझसे मदद मांगी गई. मैंने पुलिस प्रशासन से मदद मांगी और जिले के भीम आर्मी की पूरी टीम यहां पर पहुंची, इसके बाद हमने दूल्हे को घोड़े पर बैठाकर बारात निकलवाई.

हमारे गांव में पुरानी परंपरा चली आ रही है कि शादी के दौरान अहिरवार समाज के दूल्हे की घोड़े पर राछ (बारात) नहीं निकाली जाती, लेकिन आज भीम आर्मी की मदद से हम ये कर सके.
दिलीप अहिरवार, दूल्हा

सागर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ASP) विक्रम सिंह ने बताया कि गांव के कुछ लोगों ने दूल्हे के घर पर पथराव कर तोड़फोड़ की है. गांव में सुरक्षा के लिहाज से पुलिस बल तैनात किया गया है.

ADVERTISEMENT
323, 294, 148, एचसी एससी एक्ट और तमाम धाराओं के तहत मामला दायर किया गया है. पुलिस एट्रोसिटी एक्ट के तहत मामले की जांच कर रही है, जांच के बाद कार्रवाई पूरी की जाएगी.
विक्रम सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक

उन्होंने आगे बताया कि इस मामले में प्रमोद की शिकायत पर 20 से अधिक आरोपियों के खिलाफ बलवा समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया है. इसके अलावा आरोपी धर्मेंद्र लोधी समेत अन्य को गिरफ्तार किया है और कुछ संदिग्ध लोगों से पूछताछ की जा रही है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×