ADVERTISEMENTREMOVE AD

Modi Cabinet 3.0 में 7 महिला मंत्रियों पर भरोसा, जानें कौन हैं वो?

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद में कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं शामिल हैं.

Published
भारत
4 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रविवार को 71 मंत्रियों के साथ राष्ट्रपति भवन में लगातार तीसरी बार शपथ ली. प्रधानमंत्री मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद (Modi Cabinet) में कुल 72 में से 7 महिलाएं शामिल रहीं. पिछली मंत्रिपरिषद जो 5 जून को भंग हो गई थी, उसमें 10 महिला मंत्री थीं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

नए कैबिनेट में किन्हें मिली जगह?

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद में कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं शामिल हैं.

1.निर्मला सीतारमण

बीजेपी से नियुक्त 64 वर्षीय राज्यसभा सदस्य निर्मला सीतारमण पिछली सरकार में केंद्रीय वित्त मंत्री थीं. सीतारमण केंद्रीय मंत्रिमंडल में दो महिलाओं में से एक हैं. केंद्रीय मंत्रिमंडल में यह उनका लगातार तीसरा कार्यकाल है. सीतारमण को 2014 में उद्योग और वाणिज्य मंत्री के रूप में पीएम मोदी के मंत्रिमंडल में शामिल किया गया था और 2017 में उन्हें रक्षा विभाग सौंपा गया था. 2019 के आम चुनावों के बाद जब तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली बीमार हो गए, तो सीतारमण पूरे कार्यकाल के लिए वित्त मंत्रालय का प्रभार संभालने वाली देश की पहली महिला बनीं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद में कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं शामिल हैं.

2. अन्नपूर्णा देवी

अन्नपूर्णा देवी: झारखंड की ओबीसी नेता अन्नपूर्णा देवी केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह पाने वाली दूसरी महिला हैं. उन्हें राज्य में आगामी विधानसभा चुनावों से पहले बीजेपी के समर्थन को मजबूत करने में एक महत्वपूर्ण व्यक्ति के रूप में देखा जा रहा है. पति की मृत्यु के बाद आरजेडी का साथ छोड़ बीजेपी में शामिल होने के बाद अन्नपूर्णा देवी ने पार्टी में अपना कद तेज रफ्तार से बढ़ाया. वह झारखंड और अविभाजित बिहार में राज्य स्तर पर मंत्री के रूप में काम कर चुकी हैं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद में कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं शामिल हैं.

3. निमुबेन बंभानिया

निमुबेन बाभंणिया: राज्य मंत्री के रूप में शामिल निमुबेन बाभंणिया गुजरात से बीजेपी टिकट पर जीतने वाली तीन महिलाओं में से एक हैं. 57 वर्षीय बीजेपी नेता निमुबेन ने भावनगर निर्वाचन क्षेत्र में आम आदमी पार्टी के उमेश मकवाना को 4.55 लाख वोटों के बड़े अंतर से हराया. शिक्षिका रहीं निमूबेन ने 2009-10 और 2015-18 के बीच दो कार्यकालों के लिए भावनगर की मेयर के रूप में काम किया और 2013 से 2021 के बीच बीजेपी महिला मोर्चा की राज्य इकाई की उपाध्यक्ष रहीं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद में कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं शामिल हैं.

4.रक्षा खडसे

रक्षा खडसे: 37 वर्षीय बीजेपी नेता रक्षा खडसे, पूर्व बीजेपी नेता एकनाथ खडसे की बहू हैं. खडसे ने रविवार, 9 जून को राज्य मंत्री पद की शपथ ली. रक्षा खडसे महाराष्ट्र से तीन बार सांसद रह चुकी हैं. 2013 में महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में एनसीपी नेता मनीष जैन से पति निखिल मामूली अंतर से हार गए जिसके बाद उनके पति उन्होंने आत्महत्या कर ली थी. इस घटना के बाद पत्नी रक्षा खडसे ने 2014 में जैन के खिलाफ रावेर से लोकसभा चुनाव लड़ा और जीत हासिल की. ​​2024 लोकसभा चुनाव में उन्होंने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरदचंद्र पवार) के श्रीराम पाटिल को 2.72 लाख मतों के अंतर से हराया. ​​खडसे के पास कंप्यूटर साइंस में बीएससी की डिग्री है.

0
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद में कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं शामिल हैं.

5.सावित्री ठाकुर

सावित्री ठाकुर: 46 साल की बीजेपी नेता सावित्री ठाकुर ने 9 जून को राज्य मंत्री पद की शपथ ली. ठाकुर मध्य प्रदेश की एक प्रमुख आदिवासी नेता हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में ठाकुर को पार्टी से टिकट नहीं मिला क्योंकि पार्टी ने छतर सिंह दरबार पर दांव लगाने का फैसला किया. लेकिन जब 2024 लोकसभा चुनाव में सावित्री ठाकुर को मौका मिला तो उन्होंने धार सीट से 2.18 लाख वोटों के अंतर से बंपर जीत हासिल की.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद में कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं शामिल हैं.

6.शोभा करंदलाजे

शोभा करंदलाजे: कर्नाटक से धार्मिक कट्टरपंथ की मुखर आलोचक 57 वर्षीय बीजेपी नेता शोभा करंदलाजे पहले केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री रह चुकी हैं. बीजेपी के कद्दावर नेता बीएस येदियुरप्पा की करीबी करंदलाजे तीन बार लोकसभा सदस्य रह चुकी हैं. करंदलाजे ने कांग्रेस के एमवी राजीव गौड़ा को 2,59,476 मतों से हराकर बेंगलुरु उत्तर लोकसभा सीट से जीत दर्ज की और बेंगलुरु की पहली महिला सांसद बनीं. करंदलाजे ने 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में दो बार उडुपी-चिकमगलूर सीट से जीत हासिल की थी.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शपथ लेने वाले केंद्रीय मंत्रिपरिषद में कुल 72 मंत्रियों में से 7 महिलाएं शामिल हैं.

7.अनुप्रिया पटेल

अनुप्रिया पटेल: केंद्रीय मंत्रिपरिषद में वापसी करने वाली 43 वर्षीय अपना दल (एस) सुप्रीमो अनुप्रिया पटेल अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) कुर्मी समुदाय की एक प्रमुख नेता हैं और अपना दल के संस्थापक स्वर्गीय डॉ. सोनीलाल पटेल की बेटी हैं. वह पिछली सरकार में वाणिज्य राज्य मंत्री थीं. 2016 से 2019 तक पटेल ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री के रूप में कार्य किया. उन्होंने 2014 लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की मिर्जापुर सीट पर समाजवादी पार्टी के रमेश चंद बिंद को 37,810 मतों के अंतर से हराया.

इस बार मंत्रिपरिषद में जगह नहीं बनाने वाली महिलाओं में पूर्व केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, ​​राज्य मंत्री डॉ. भारती पवार, साध्वी निरंजन ज्योति, दर्शना जरदोश, मीनाक्षी लेखी और प्रतिमा भौमिक शामिल हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×