ADVERTISEMENTREMOVE AD

मुजफ्फरनगर स्कूल केस में Alt News के पत्रकार मोहम्मद जुबैर पर FIR, क्या है आरोप?

Mohammed Zubair ने मुजफ्फरनगर स्कूल में मुस्लिम बच्चे को थप्पड़ मारने वाले केस का वीडियो शेयर किया था.

Published
भारत
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) जिले में फैक्ट चेकिंग वेबसाइट ऑल्ट न्यूज (Alt News) के को-फाउंडर और पत्रकार मोहम्मद जुबैर (Mohammed Zubair) पर FIR दर्ज होने का मामला सामने आया है. पिछले दिनों जिले के एक स्कूल में मुस्लिम बच्चे को क्लास के स्टूडेंट्स से थप्पड़ मरवाने का केस सामने आया था. अब इसी मामले में जुबैर के खिलाफ बाल संरक्षण अधिनियम (पोक्सो एक्ट) के तहत FIR दर्ज हुई है. आइए जानते हैं कि ये पूरा मामला क्या है और उनके ऊपर क्या आरोप लगाए गए हैं और उन्होंने क्विंट हिंदी के साथ बातचीत में क्या कहा है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या है पूरा मामला?

हाल ही में सोशल मीडिया पर एक स्कूल की क्लास का एक वीडियो वायरल हुआ. ये वीडियो था, मुजफ्फरनगर के खुब्बापुर में नेहा पब्लिक स्कूल का. कथित वीडियो में स्कूल की टीचर तृप्ता त्यागी कथित तौर पर अन्य छात्रों को सात वर्षीय मुस्लिम छात्र को थप्पड़ मारने के लिए कहती नजर आ रही थीं. इसी घटना का सोशल मीडिया पर हैंडल पर पोस्ट करने के मामले में विष्णु दत्त नाम के एक शख्स ने मंसूरपुर थाने में मोहम्मद जुबैर पर FIR दर्ज करवाई है.

Mohammed Zubair ने मुजफ्फरनगर स्कूल में मुस्लिम बच्चे को थप्पड़ मारने वाले केस का वीडियो शेयर किया था.
0

FIR में जुबैर पर क्या आरोप?

मोहम्मद जुबैर पर दर्ज करवाए गए FIR में आरोप लगाया गया है कि उन्होंने 25 अगस्त को नेहा पब्लिक स्कूल खुब्बापुर स्कूल वाले मामले से संबंधित वायरल वीडियो में छात्र की पहचान उजागर की. आरोप लगा है कि यह किशोर न्याय अधिनियम के अंतर्गत बालक के अधिकारों का हनन है.

Mohammed Zubair ने मुजफ्फरनगर स्कूल में मुस्लिम बच्चे को थप्पड़ मारने वाले केस का वीडियो शेयर किया था.
ADVERTISEMENT

मोहम्मद जुबैर ने क्या कहा?

Alt News के फैक्ट चेकर मोहम्मद जुबैर ने क्विंट हिंदी के साथ बातचीत में कहा कि वैसे तो कई न्यूज चैनल्स, राजनीति से जुडे़ं लोगों के अलावा कई अन्य लोगों ने भी यह वीडियो पोस्ट किया लेकिन मुझ पर FIR हुई है. मैंने तो फौरन वीडियो डिलीट कर दिया था. लेकिन उसके बाद भी सिंगल आउट करना ये दिखाता है कि मुझे टारगेट करना चाहते हैं.

मैंने वीडियो पोस्ट किया था लेकिन कुछ देर में ही NCPCR के प्रियंक कानूनगो ने कहा कि मैं वीडियो डिलीट करने की गुजारिश करता हूं क्योंकि इसमें बच्चे की पहचान का मामला है. इसके बाद मैंने वीडियो डिलीट करके स्क्रीनशॉट लगा दिया था, जिसमें बच्चे की फोटो नहीं दिख रही है.
मोहम्मद जुबैर, पत्रकार, Alt News
Mohammed Zubair ने मुजफ्फरनगर स्कूल में मुस्लिम बच्चे को थप्पड़ मारने वाले केस का वीडियो शेयर किया था.

NCPCR के चैयरपर्सन प्रियंक कानूनगो का ट्वीट

(फोटो- स्क्रीनशॉट)

मोहम्मद जुबैर आगे कहते हैं कि मुझे अब तक जो पता है, यही पता है कि मेरे अलावा और किसी पर एफआईआर नहीं हुआ है, इससे दिखता है कि ये क्या करना चाह रहे हैं. अभी मैं अपने वकील से बात करके लीगल ओपिनियन ले रहा हूं कि इस मामले पर आगे क्या करना है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

जुबैर ने ट्वीट में क्या लिखा था?

मोहम्मद जुबैर ने अपने सोशल मीडिया हैंडल से किए गए पोस्ट में लिखा था कि अभी थोड़ी देर पहले पीड़ित छात्र (छात्र का नाम) के पिता इरशाद से बात हुई. इस दौरान उन्होंने कहा कि अब उन्होंने फैसला किया है कि वो अपने बच्चे को स्कूल नही भेजेंगे.

Mohammed Zubair ने मुजफ्फरनगर स्कूल में मुस्लिम बच्चे को थप्पड़ मारने वाले केस का वीडियो शेयर किया था.

मोहम्मद जुबैर का ट्वीट

(फोटो- स्क्रीनशॉट)

क्लासरूम में बनाए गए वीडियो पोस्ट करने के करीब दो घंटे बाद मोहम्मद जुबैर ने पोस्ट का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए दूसरा पोस्ट किया. इसमें उन्होंने लिखा कि वीडियो डिलीट कर रहा हूं, क्योंकि NCPCR 'मैसेंजर' के खिलाफ एक्शन ले सकता है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×