ADVERTISEMENTREMOVE AD

New Vs Old Parliament: नए और पुराने संसद भवन में कितना अंतर? स्लाइड करके देखें

नए संसद भवन के अंदर की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं. जिससे पुरानी और नई इमारत में अंतर साफ देखा जा सकता है.

Updated
भारत
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 28 मई को देश के नए संसद भवन की इमारत का उद्घाटन किया और अब 19 सितंबर से आधिकारिक रूप से इसका संचालन शुरू हो जाएगा. 18 से 22 सिंतबर के बीच तक चल रहे विशेष सत्र में इसकी शुरुआत की जा रही है. नए संसद भवन के अंदर की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं. जिससे पुरानी और नई इमारत में अंतर साफ देखा जा सकता है. लोकसभा और राज्यसभा के डिजाइन में बदलाव के साथ सीटों की संख्या भी बढ़ी हैं. इमारत भी देखने में बेहद आकर्षक लहग रही है.

क्विंट हिंदी ने ऐसे 5 स्लाइडर तैयार किए हैं जिनमें पुरानी और नई इमारत में अंतर साफ दिखाई दे रहा है. आप स्लाइडर को दांए या बांए हिला कर तस्वीरों में अंतर देख सकते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

1. पुराने और नए संसद भवन के सामने की तस्वीर

नए और पुराने संसद भवन को सामने से देखकर अंतर साफ नजर आता है. पुराने संसद में सामने बड़ा स्पेस है और पूरी इमारत गोलकार है, जबकि नई इमारत त्रिभुजाकार है. इसमें बिल्डिंग कपास में ही बड़ा गेट है जिसे संसद का मुख्य द्वार कहा जा रहा है.

2. पुराने और नए संसद भवन की एरियल तस्वीर

ये ऊपर से ली गई ऐरियल तस्वीर है, जिसमें बांए तरफ पुराना हिस्सा है, जबकि दांए तरफ सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत बनी नई इमारत भी दिखाई दे रही है. दोनों तस्वीरों में पीछे राष्ट्रपति भवन नजर आ रहा है.

3. पुराने और नए संसद भवन की लोकसभा

पुरानी और नई लोकसभा में अंतर इन तस्वीरों में साफ देख सकते हैं. नई लोकसभा में सांसदों के बैठने के लिए 888 सीटें हैं और इसे मोर के थीम पर बनाया गया है. नई लोकसभा में सामने की तरफ 2 LCD स्क्रीन भी लगाई गई हैं.

नई लोकसभा में सांसदों को अपनी सीट से निकलने के लिए काफी स्पेस दिया गया है. इसस पहले पुराने सदन में सीटों को देखेंगे तो उसमें सीटें जुड़ी हुई थीं, जिसमें बीच में बैठे लोगों को निकलने में काफी दिक्कत आती थी.

0

4. पुराने और नए ससंद भवन की राज्यसभा

नई और पुरानी राज्यसभा में भी अंतर स्पष्ट है. नई राज्यसभा कमल के थीम पर बनी है और इसमें सांसदों के बैठने के लिए 348 सीटें हैं.

5. पुराने और नए संसद भवन की बाहरी तस्वीर

ये पुरानी और नई संसद भवन की बाहरी तस्वीरें हैं. दोनों की दीवारों में भी अंतर साफ झलक रहा है. पुरानी इमारत में बाहर की तरफ गोलाकार स्तंभ हैं, जबकि नई इमारत में आर्ट वर्क के साथ बाहरी दीवारों को आकर्षक बनाने की कोशिश है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×