ADVERTISEMENT

लाल किले पर PM का भाषण: महिला, युवा, किसान और कारोबारियों पर क्या बोले PM मोदी

युवाओं के लिए रोजगार, तो कारोबारियों के लिए व्यापार की स्थितियां आसान बनाने पर रहा पीएम का जोर

Published
भारत
3 min read
लाल किले पर PM का भाषण: महिला, युवा, किसान और कारोबारियों पर क्या बोले PM मोदी
i
Like
Hindi Female
listen

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

आजादी के 74 साल पूरे होने पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिले की प्राचीर से देश को संबोधित किया. इस खास मौके पर उन्होंने किसानों, दलितों व पिछड़ों के आरक्षण के संबंध में बातें कहीं.

ADVERTISEMENT

महिलाओं के लिए क्या?

प्रधानमंत्री ने बताया कि सरकार से लगातार मांग होती थी कि लड़कियों के लिए सैनिक स्कूल में एडमिशन शुरू किया जाए. प्रधानमंत्री ने बताया कि जल्द देश के सभी सैनिक स्कूल लड़कियों के लिए खोल दिए जाएंगे.

पीएम ने अपने भाषण में कहा, "बेटियों की शिक्षा पर बात करते हुए प्रधानंत्री ने कहा कि आज मैं देशवासियों से एक खुशी साझा कर रहा हूं, मुझे लाखों बेटियों के संदेश मिलते थे कि वो भी सैनिक स्कूलों में पढ़ना चाहती हैं. कुछ समय पहले मिजोरम के सैनिक स्कूल में प्रयोग के तौर पर बेटियों को दाखिला देने का निर्णय लिया गया था. अब देश के सभी सैनिक स्कूल लड़कियों के लिए खोल दिए जाएंगे और एडमिशन हो सकेगा."

इसके अलावा प्रधानमंत्री ने हाल में ओलंपिक खेलों में महिलाओं के प्रदर्शन का जिक्र भी किया. बता दें टोक्यो ओलंपिक में मीराबाई चानू, पी वी सिंधु, लोवलीना बोर्गोहान पदक जीतने में कामयाब रही थीं.

ADVERTISEMENT

छोटे किसानों को समृद्ध बनाने पर जोर

पीएम मोदी ने भाषण के दौरान छोटे किसानों को ज्यादा सशक्त बनाने पर जोर दिया. पीएम ने किसानों की सुविधाओं पर बात करते हुए कहा कि छोटे किसान देश का सम्मान बनेंगे. किसानों को डेढ़ गुनी एमएसपी दी जाएगी.

पीएम ने कहा, "उन्होंने कहा कि बंटवारे के कारण गांवों में जमीन की जोत छोटी हो रही है. देश के 80 फीसदी किसानों के पास 2 हेक्टेयर से भी कम जमीन है. कृषि क्षेत्र में वैज्ञानिक क्षमता का इस्तेमाल बहुत ही जरूरी है, इसमें ज्यादा इंतजार नहीं किया जा सकता. हमारा सपना है कि देश के छोटे किसान देश की शान बनें. आने वाले सालों में देश के छोटे किसानों की सामूहिक शक्ति को और मजबूत करना होगा और उनको जमीन की मैपिंग, ऑनलाइन दस्तावेज जैसी सुविधाएं देनी होंगी."

ADVERTISEMENT

युवा और रोजगार

प्रधानमंत्री ने युवाओं को रोजगार देने के लिए अपने भाषण में कुछ अहम ऐलान किए. उन्होंने गति शक्ति योजना और नेशनल हाइड्रोजन मिशन का ऐलान किया.

प्रधानमंत्री ने ग्रीन हाइड्रोजन का महत्व बताते हुए National Hydrogen Mission का ऐलान किया. उन्होंने कहा, "भारत आज जो भी कार्य कर रहा उसमें सबसे बड़ा लक्ष्य भारत को क्वांटम जंप देने का है, जो ग्रीन हाइड्रोजन का क्षेत्र है. मैं आज नेशनल हाइड्रोजन मिशन की घोषणा करता हूं, इससे क्लीन एनर्जी और ग्रोथ के साथ-साथ युवाओं के लिए ग्रीन जॉब का भी रास्ता खुलेगा."

युवाओं के लिए गति शक्ति योजना के जरिए इंफ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र में भारी रोजगार बढ़ाए जाने का भी जिक्र पीएम ने किया. यह 100 लाख करोड़ रुपये की योजना है. भविष्य में इसका मास्टर प्लान पेश किया जाएगा.

ADVERTISEMENT

थामना होगा पिछड़ों का हाथ

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में समाज के पिछड़े वर्ग के लिए हाल में सरकार द्वारा किए गए आरक्षण के उपायों को दोहराया.

उन्होंने कहा, "दलितों, पिछड़ों, आदिवासियों और सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए आरक्षण सुनिश्चित किया जा रहा है. जो पिछड़े हैं, उनका हाथ पकड़ना ही होगा. हाल में चिकित्सा शिक्षा क्षेत्र में आरक्षण व्यवस्था की गई है."

बता दें हाल में मेडिकल एजुकेशन फील्ड में EWS के लिए 10 फीसद रिजर्वेशन दिया गया है, वहीं ओबीसी कोटे का फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ा गया है.

ADVERTISEMENT

कारोबारियों पर क्या बोले पीएम

प्रधानमंत्री ने मेड इन इंडिया ब्रॉन्ड को स्थापित करने पर जोर दिया. उन्होंने कहा, "कल के स्टार्ट-अप्स, आज के यूनिकॉर्न बन रहे हैं. आप जो प्रोडक्ट बाहर भेजते हैं, वो आपकी कंपनी में बनाया हुआ सिर्फ एक Product नहीं होता. उसके साथ भारत की पहचान जुड़ी होती है, प्रतिष्ठा जुड़ी होती है, उसमें ग्राहक को मेड इन इंडिया का भरोसा होना चाहिए."

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि सरकार कारोबारियों को हर तरह की मदद करेगी. मौजूदा स्थिति में भी टैक्स से लेकर नियमों में हर तरह की राहत दी जा रही है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
और खबरें
×
×